Friday, Jan 21, 2022
-->
taliban annoyed by this cunning of america, said - we were cheated musrnt

अमेरिका की इस चालाकी से चिढ़ा तालिबान, कहा- हमारे साथ धोखा हुआ

  • Updated on 9/3/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जैसे ही अमरीकी सेना ने अफगानिस्तान छोड़ा, तालिबान लड़ाके खुशी से झूम उठे। उन्होंने 31 अगस्त तक पश्चिमी बलों के अंतिम गढ़ काबुल हवाईअड्डे पर मार्च किया। यहां तक कि अपनी खुशी व्यक्त करते हुए हवा में फायरिंग भी की।

पड़े जान के लालेः तालिबान से जान बचाने को पैदल भागे अफगानी

लेकिन कुछ ही दिनों बाद सब कुछ बदल गया है। अल जजीरा की एक रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान ने कहा है कि वे ठगा हुआ महसूस करते हैं क्योंकि अमरीकियों ने काबुल से प्रस्थान करने से पहले सैन्य हेलीकॉप्टरों और विमानों को निष्क्रिय कर दिया था।

दुनिया के लिए सिरदर्द बन सकते हैं तालिबान के हाथ में आए अमेरिकी हथियार!

31 अगस्त को तड़के काबुल हवाईअड्डा वापसी की कलाकृतियों से अटा पड़ा था। टर्मिनल के अंदर कपड़े, सामान और दस्तावेजों के ढेर बिखरे पड़े थे। अमरीकी सेना द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले कई सीएच-46 हेलीकॉप्टर एक हैंगर में खड़े थे।

अमरीकी सेना ने कहा कि उसने जाने से पहले 27 ‘हमवीस’ और 73 विमानों को निष्क्रिय कर दिया। तालिबान के पास अब 48 विमान रह गए हैं। हालांकि इनमें से कितने चालू हैं, इस बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

जानें, कौन है खलील हक्कानी जो खुद को मानता है काबुल का सिक्योरिटी इंचार्ज

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने बुधवार को कहा कि उनकी तकनीकी टीम हवाईअड्डे की मरम्मत और सफाई कर रही है और लोगों को फिलहाल इलाके से दूर रहने की सलाह दी गई है। अभी के लिए तालिबान अफगानिस्तान को फिर से चलाने में लगा हुआ प्रतीत होता है।

यह एक ऐसा कार्य है जो उन लड़ाकों के लिए चुनौतीपूर्ण साबित हो सकता है जिन्होंने अपना अधिकांश जीवन ग्रामीण इलाकों में विद्रोह करते हुए बिताया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.