Saturday, May 15, 2021
-->
tandava anil deshmukh said center should make law for content released on ott pragnt

तांडव विवाद पर अनिल देशमुख ने कहा- OTT पर रिलीज होने वाले कंटेंट के लिए बने कानून

  • Updated on 1/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अभिनेता सैफ अली खान (Saif Ali Khan) की वेब सीरिज 'तांडव' (Tandav) को लेकर जारी बवाल थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। इस बीच महाराष्ट्र (Maharashtra) के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने इस मामले में अपनी प्रतिकिया देते हुए केंद्र पर निशाना साधा है। अनिल देशमुख ने ओटीटी को कानून बनाने को भी कहा है।

ऐसा क्या हुआ कि कंगना को Delete करना पड़ गया Tweet, 'तांडव' विवाद पर दी सफाई

अनिल देशमुख ने कहा ये
अनिल देशमुख ने बुधवार को पत्रकारों से कहा, 'वेब सीरीज 'तांडव' को लेकर हमारे पास शिकायत आई है। हम कानून के हिसाब से कार्रवाई करेंगे। यह ओटीटी प्लेटफॉर्म पर आई है। केंद्र सरकार को ओटीटी पर जो भी सीरीज या फिल्में रिलीज होती हैं उसके लिए कानून बनाना चाहिए ताकि जातीय भेदभाव न हो और इस प्रकार की घटना न घटे।'

लगा ये आरोप
बता दें कि वेब सीरीज पर हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया गया है। कई राजनेता ने भी वेब सीरीज पर नाराजगी जाहिर कर चुके हैं।शुरुआत से ही चर्चा में रही इस सीरीज को अब बायकॉट किया जा रह है। अब ये विरोध इस कदर बढ़ गया कि अब सोशल मीडिया पर अमेजन को हिंदू विरोधी बताते हुए बायकॉट किया जा रहा है।

नहीं थम रहा Tandav को लेकर विवाद, लखनऊ के बाद अब नोएडा में शिकायत दर्ज

डायरेक्टर ने जारी किया अपना स्टेटमेंट
वहीं अब तांडव के डायरेक्टर ने सार्वजनिक तौर पर ये ऐलान किया है कि वह सीरीज में बदलाव करने के लिए तैयार हैं।सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास (ali abbas zafar) ने एक हाल ही में एक ट्वीट शेयर किया है। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि 'हमारे मन में देश के लोगों की भावनाओं के बहुत सम्मान है। हमारा इरादा किसी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म, धार्मिक समुदाय, राजनीतिक दल, जीवित या मृत व्यक्ति की भावनाओं को चोट पहुंचाना नहीं था। तांडव के कास्ट और क्रू ने सीरीज के कंटेंट में बदलाव करने का फैसला लिया है। इस मामले में हम सूचना और प्रसारण मंत्रालय से मिले सपोर्ट के लिए उन्हें धन्यवाद कहना चाहते हैं। अगर सीरीज ने अनजाने में किसी किसी भावना को आहत किया है तो हम उसके लिए एक फिर माफी मांगते हैं।'

'तांडव' पर बरसी कंगना, बोलीं- 'जानबूझकर ऐसे सीन रखे, अल्लाह का मजाक उड़ाने की है हिम्मत

अब्बास जफर ने मांगी माफी
सैफ अली खान की वेब सीरीज तांडव को लेकर मचे बवाल के बीच एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है। वेब सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास जफर ने सार्वजनिक तौर पर माफी मांगी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि 'हम वेब सीरीज तांडव को लेकर दर्शकों की प्रतिक्रियाओं को बारीकी से निगरानी कर रहे हैं। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के साथ सोमवार को एक मीटिंग के दौरान वेब सीरीज के विभिन्न पहलुओं और कॉन्टेंट से लोगों की भावनाओं को आहत करने को लेकर काफी संख्या में शिकायत मिली हैं।'

'तांडव' के बाद अब Mirzapur के खिलाफ मुकदमा हुआ दर्ज, लगाए ये गंभीर आरोप

Amazon Prime के अधिकारियों को भेजा गया Notice
बता दें कि 'तांडव' पर आरोप है कि इसमें भगवान शिव जी और भगवान राम का मजाक बनाया गया है जिससे हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है। वहीं यूपी सरकार लगातार इसपर प्रतिक्रिया दे रही है। लखनऊ के बाद 'तांडव' के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के राबूपुरा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। शिकायत में कहा गया है कि तांडव ने उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहंचाया है जिस वजह से वेब सीरीज के डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, एक्टर सैफ अली खान, सुनील ग्रोवर और डिंपल कपाड़िया के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। 

उठी सीरीज को बैन करने की मांग
बता दें कि बीजेपी के विधायक राम कदम (BJP MLA Ram Kadam) ने तांडव को बैन करने की मांग की है। इसी क्रम में राम कदम ने तांडव के खिलाफ घाटकोपर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई है। उन्होंने अपनी शिकायत में सैफ की वेब सीरीज तांडव को बैन करने की मांग की है और ये भी कहा है कि फिल्म के डायरेक्ट, प्रोड्यूसर और एक्टर के खिलाफ सख्त कारवाई की जाए। जिसके बाद इंफॉर्मेशन और ब्रॉडकास्टिंग मंत्रालय ने अमेजॉन प्राइम वीडियो (Amazon Prime Video) के अधिकारियों को नोटिस भेजा है। 

बहुप्रतीक्षित पॉलिटिकल ड्रामा 'तांडव' को जनता से मिला थम्स-अप!

मनोज कोटक ने तांडव को लेकर लिखा पत्र
बता दें कि मुंबई उत्तर-पूर्व से सांसद कोटक ने कहा कि इस तरह के मंच पर अक्सर ही हिंदू देवी-देवताओं को अच्छे संदर्भ में नहीं दिखाने की कोशिश की जाती है। कोटक ने कहा, 'विभिन्न संगठनों और लोगों ने शिकायत की है कि हिंदू देवी-देवताओं का ‘तांडव’ वेब सीरीज में मजाक उड़ाया गया है। उनके बारे में (आपत्तिजनक) टिप्पणी की गई है।' उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए हम जावड़ेकर जी से मांग करते हैं कि वह इस वेब सीरीज पर फौरन प्रतिबंध लगाएं। भावनाओं को ठेस पहुंचाने को लेकर इसके अभिनेताओं, निर्माता और निर्देशक को माफी मांगनी चाहिए।'

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.