Thursday, Aug 11, 2022
-->
tariq-anwar-joined-congress-in-presence-of-party-president-rahul-gandhi

कांग्रेस में शामिल हुए सांसद तारिक अनवर, राहुल गांधी ने किया स्वागत

  • Updated on 10/27/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शरद पवार से अनबन को लेकर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) को छोड़ने वाले तारिक अनवर ने आज फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। कांग्रेस में शामिल होने का पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने स्वागत किया।

सूत्रों ने बताया कि नई दिल्ली में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करने के बाद वह पार्टी में शामिल हुए। अनवर अपने समर्थकों के साथ गांधी से तुगलक लेन स्थित उनके निवास पर मिले जहां उनका पार्टी में स्वागत किया गया। कटिहार लोकसभा सीट से पूर्व सांसद रहे अनवर दोपहर या शाम तक कांग्रेस पार्टी में शामिल होने की औपचारिक घोषणा कर सकते हैं।
राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शरद पवार द्वारा पक्ष लिए जाने के बाद (NCP) के संस्थापक नेताओं में से एक और बिहार के कटिहार से सांसद तारिक अनवर ने पार्टी को अलविदा कह दिया था।

पार्टी छोड़ने के  साथ ही अनवर ने लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था। पवार ने राफेल विमान सौदे को लेकर कहा था कि लोगों को सौदे में प्रधानमंत्री की मंशा पर कोई संदेह नहीं है। शरद पवार के बयान से नाराज तारिक अनवर ने कहा कि राफेल सौदे में पूरी तरह से लिप्त पीएम मोदी अभी तक खुद को पाक साबित नहीं कर पाए हैं। वहीं, फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के बयानों से यह साफ हो गया है कि राफेल डील मामले में घोटाला हुआ है।

कौन हैं तारिक अनवर?

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) के संस्थापक नेताओं में से एक तारिक अनवर बिहार की कटिहार सीट से कई बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं। शरद पवार, पीए संगमा और तारिक अनवर ने मिलकर एनसीपी की नींव रखी थी। तारिक अनवर ने अपनी राजनीतिक करियर की शुरुआत कांग्रेस पार्टी से की थी। वह भारतीय यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर भी रहे। वर्ष 1980 में वह पहली बार कटिहार लोकसभा से निर्वाचित हुए थे। उनका इस तरह इस्तीफा देना पार्टी के लिए झटका है।

 कांग्रेस की बिहार इकाई के पूर्व अध्यक्ष रहे अनवर ने पवार और दिवंगत पी ए संगमा के साथ मिलकर 1990 में राकांपा बनाई थी। सोनिया गांधी को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) का अध्यक्ष बनाए जाने के विरोध में उन्होंने इस पार्टी का गठन किया गया था।      राकांपा इसके बाद राष्ट्रीय स्तर पर और महाराष्ट्र में भी कांग्रेस के साथ गठबंधन में रही। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.