Thursday, Nov 26, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 26

Last Updated: Thu Nov 26 2020 08:50 AM

corona virus

Total Cases

9,266,697

Recovered

8,677,986

Deaths

135,261

  • INDIA9,266,697
  • MAHARASTRA1,795,959
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA871,342
  • TAMIL NADU768,340
  • KERALA578,364
  • NEW DELHI545,787
  • UTTAR PRADESH531,050
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA315,271
  • TELANGANA263,526
  • RAJASTHAN240,676
  • BIHAR230,247
  • CHHATTISGARH221,688
  • HARYANA215,021
  • ASSAM211,427
  • GUJARAT201,949
  • MADHYA PRADESH188,018
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB145,667
  • JHARKHAND104,940
  • JAMMU & KASHMIR104,715
  • UTTARAKHAND70,790
  • GOA45,389
  • PUDUCHERRY36,000
  • HIMACHAL PRADESH33,700
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,691
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,647
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,312
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
tea bags leach billions of microplastics per cup know their side effect on health

Tea Bag की चाय पीने वाले हो जाएं सावधान, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

  • Updated on 9/27/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अगर आप भी चाय (tea) पीने के शौकीन हैं तो ये खबर आपके लिए काफी महत्वपूर्ण हो सकती हैं क्योंकि जिन लोगों को चाय पीने की ललक लगी होती हैं वो कहीं भी चाय पी लेते हैं। लेकिन शायद वो लोग ये नहीं जानते हैं कि घर से बाहर मिलने वाली चाय मे  इस्तेमाल होने वाला टी बैग उनकी सेहत के लिए काफी हानिकारक है।

tea

हाल ही में हुए शोध में पाया गया कि  टी बैग वाली चाय का उपयोग धीरे-धीरे आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी  के करीब ले जा रहा है। शोधकर्ताओं का कहना है कि न चाहते हुए भी रोजाना टी बैग वाली चाय पीकर हम कही न कहीं प्लास्टिक के छोटे छोटे कण को निगल रहे हैं।

tea

ऐसे किया शोध
अमेरिका की मैग्जीन एनवायरनमेंटर साइंस एंड टेक्नॉलॉजी में प्रकाशित हुए शोध में बताया गया कि शोधकर्ताओं ने चार अलग अलग कंपनियों के टी बैग को जब गर्म पानी में डाला गया तो उस टी बैग में अरबों की संख्या में नेनोप्लास्टक नजर आए जो एक आम इंसान को कैंसर जैसी बीमारी से ग्रस्थ कर सकते हैं।

tea

आपको बता दें कि तुफेंकजी ने बताया कि जब हमने इस अध्ययन के बारे में सोचा तो हमे लगा कि थोडे ही कण  मिलेंगे लेकिन जब शोध के नतीजे सामने आए तो हम भी काफी हैरान रह गए। हमने जब देखा कि एक बैग के अंदर अरबों की संख्या में प्लास्टिक कण मौजूद हैं।

tea

कितनी नुकसानदायक है प्लास्टिक के कण
इस अध्ययन को करने वाले साइंसटिस्ट तुफेंकजी ने कहा कि हमारे पास अभी इसका कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं है कि ये प्लास्टिक के कण मानव के रक्त प्रवाह में प्रवेश कर पाएंगे या नहीं। लेकिन ये कण अगर प्रवेश करते हैं तो ये स्वास्थ के लिए काफी हानिकारक हैं। इन कणों  के कारण मानव जाति में सांस लेने की भी परेशानी सामने आ सकती हैं जिससे फेफड़ों के कैंसर जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है। 

comments

.
.
.
.
.