Sunday, Jan 23, 2022
-->
temporary apple market started in tikri khampur due to corona virus pragnt

कोरोना वायरस के कारण टिकरी खामपुर में शुरू हुई अस्थाई सेब मंडी

  • Updated on 8/11/2020

नई दिल्ली/अनामिका सिंह। कोविड का कहर लगातार बढ़ता चला जा रहा है। ऐसे में दिल्ली सरकार भरसक प्रयास कर रही है कि संक्रमण को फैलने से रोका जाए। ऐसे में अब आजादपुर मंडी पर पड़ रहे अत्यधिक दबाव व कोविड के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए एपीएमसी ने टिकरी खामपुर में अस्थाई सेब मंडी की शुरूआत कर दी है। जहां कुल्लू, शिमला व कश्मीर से आने वाले सेब सीधे मंडी में पहुंचेंगे और यहां से अन्य राज्यों का रूख करेंगे। बता दें कि सेब उत्पादित करने वाले राज्यों को छोड़कर अन्य प्रदेशों में सेब की आपूर्ति एशिया की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर से किया जाता है। 

दिल्ली में कोरोना के 1257 नए मामले, मौत के आंकड़े में आई भारी गिरावट

चेयरमैन ने कहा ये
मंडी के चेयरमैन आदिल खान ने बताया कि सेब का सबसे बड़ा हब आजादपुर मंडी है। सेब के मौसम में रोजाना आजादपुर में 500 से 600 ट्रक सेब के आते हैं। ऐसे में पैर रखने की भी वहां जगह नहीं रह जाती। इस बार सेब के मौसम से पहले ही हमने टिकरी कलां में जोकि मंडी के लिए आवंटित जगह है वहां अस्थाई शेड्स बनाकर सेब मंडी को प्रारंभ कर दिया है। इससे जहां आजादपुर मंडी की भीड़-भाड़ से बचाव मिलेगा, वहीं कोविड के फैलने का खतरा भी कम हो जाएगा। सबसे पहले मार्केट में शिमला के सेब उसके बाद कुल्लू व अंत में कश्मीर से सेब आते हैं।

15 अगस्त को लेकर सरोजिनी नगर में पुलिस ने बनाई मचान, चप्पे-चप्पे पर होगी नजर

एसोसिएशन ने कहा ये
टिकरी खामपुर में मंडी बनाए जाने के लिए करीब 6-7 हजार वर्ग फीट जमीन पड़ी हुई है तो हमने एक एसोसिएशन से बात की तो उन्होंने कहा कि यदि वहां यदि सुविधाएं मिल जाएं तो हम शिफ्ट हो जाएंगे। जिसके बाद एक एसोसिएशन को अस्थाई रूप से वहां भेज दिया है। वहां बड़े 4 शेड्स बनाएं गए है और 120 बड़े आढ़तियों को भेजा गया है। ये सारी कवायद कोविड को लेकर की गई है। वहीं कुछ आढ़ती आजादपुर मंडी में भी सेब का काम करने जिससे दिल्ली की खपत पूरी होगी। इससे आजादपुर में ट्रैफिक कम होगा व आढ़तियों को खुला स्पेस मिलेगा। 

राहत इंदौरी की बेबाक शायरी का अंदाज था निराला, मोदी सरकार को भी नहीं बख्शा

मूलभूत आवश्यकताओं का रखा गया है ध्यान
आदिल खान ने बताया कि टिकरी खामपुर मंडी में सोशल डिस्टेंसिंग, ट्रैफिक सिस्टम व सिक्योरिटी सिस्टम तैयार किया जा चुका है। बैंकों से बात की जा रही है ताकि आढ़तियों के लिए लेन-देन सुविधाजनक हो सके। वहीं आढ़तियों व किसानों के लिए सुलभ शौचालयों और पेयजल की भी व्यवस्था की गई है। यहां सिर्फ आढ़तियों को मार्केट फीस देनी पड़ी है। रविवार से गेट पास कटने लगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.