terrorist-organizations-engaged-in-instigating-kashmiri-youth

कश्मीरी युवकों को उकसाने में लगे आतंकी संगठन, कहा- जिहाद है जरूरी

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/अदिती सिंह। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने धारा 370 (Article 370) को खत्म कर जम्मू-कश्मीर में अमन-चैन की बहाली की दिशा में ऐतिहासिक कदम उठा लिया है। इसके साथ ही वहां फलफूल रहे आतंकी समूहों ने सरकार के इस कदम के खिलाफ स्थानीय लोगों को भड़काना भी शुरू कर दिया है।    

इन आतंकी संगठनों के नापाक इरादों को देखते हुए सरकार ने Jammu kashmir में internet सेवाएं स्थगित कर दी है। साथ ही जनता को साथ लेने की कवायद भी शुरू हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में भी कहा कि धारा 370 को आतंक फैलाने के लिए एक ढाल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा था शायद यही वजह रही होगी की धारा 370 के बाद वहा internet सेवा को स्थगीत किया हुआ है। 

#Article370: पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित कर कही ये 10 बड़ी बातें

धारा 370 को हटाने के बाद पाकिस्तान स्थित कई  हाई-प्रोफाइल आतंकी समूहों ने भारत के इस कदम पर कड़ी प्रतिक्रिया दे रहा है। 
घाटी के लोगों से Internet के माध्यम से संपर्क ना हो पाने पर इस्लामिक स्टेट समूह और Al-Qaeda जैसे आतंकी समूह अपने  Follow करने वाले प्रो-जिहाद अकाउंट से Telegram App पर भारत सरकार और यहां के लोगों के खिलाफ भड़कीली बातें पहुंचा रहे हैं। 

कश्मीर को लेकर अपने ही बुने जाल में फंस सकता है पाकिस्तान!

* दुनिया भर में आतंक के पर्याय के रूप में बदनाम और कई दहशत भरे आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार माने जाने वाले जैश-ए-मोहम्मद ने कहा है कि  'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कश्मीर की विशेष शक्तियों को खत्म करके भारतीय प्रधानमंत्री ने हार मान ली है।'

बौखलाए पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस पर लगाई रोक, फंसे 110 यात्री

* Hizbul Mujahideen ने जम्मू-कश्मीर के युवकों को भड़काते हुए कहा है कि ऐसे समय में अगर घाटी के युवा भारत सरकार के खिलाफ कोई कार्रवाई करता है तो 'दुश्मन डरेंगे और शांति और बातचीत करने की भीख मांगेंगे।' 

यह Messages यही नहीं रुके, लश्कर-ए-झांगवी नामक आतंकी संगठन के समी उल-हक ने एक TV चैनल पर बयान जारी किया है जिसमें वह यह कहते नजर आ रहे है- 'कश्मीर का मसला सिर्फ जिहाद से ही हल हो सकता है'। इसके बाद कई जिहादी धर्म गुरुओं ने भी भारत सरकार के इस फैसले के खिलाफ जिहाद करने की लोगो से अपील करते नजर आए। 
इन जिहाद समर्थकों ने भरत सरकार को चेताया है कि अगर internet बंद कर दिया गया है तो वे घाटी के लोगों से बात करने के दूसरे रास्ते खोज लेंगे। 

जिहाद अनिवार्य है

अब्दुल अजिज ने फतवा जारी करते हुए कहा 'अब हर पाकिस्तानी मुस्लिम के लिए अनिवार्य है कि वो कश्मीर के लिए जिहाद करे और जिहाद एकमात्र समाधान है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.