Monday, Mar 25, 2019

#SaluteToASoilder: कुछ इस तरह हुई शहीदों के शवों की पहचान, मंजर देख सबकी आंखें नम

  • Updated on 2/16/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में मारे गए सीआरपीएफ जवानों के पार्थिव शरीर को उन गांवों -घरों की ओर भेज दिया गया है। जब इन जवानों के शव को उनके घर पहुंचाया गया तो उनकी हालत देखर वहां मौजूद लोगों के दिलों में गुस्सा और आंखें नम थी।

हमले में मारे गए जवानों के शव की हालत ऐसी थी जिसे शब्दों में बता पाना मुश्किल है। हमले के तुरंत बाद सामने आई तस्वीरों देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हमला कितना खतरनाक था। शवों की हालत देखकर सीआरपीएफ जवानों के लिए बेहद मुश्किल है।

बीकानेर जमीन घोटाला: वाड्रा की जमानत याचिका पर कोर्ट में आज होगी सुनवाई

लगभग 300 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल के साथ ये हमला किया गया था। इस हमले के बाद शवों की हालत बेहद बुरी थी। कहीं हाथ था को कहीं शरीर के दूसरे अंग। जवानों के बैग और उनकी टोपियां इधर-उधर बिगरी हुई थी। हमला के बाद की तस्वीरें जिसने भी देखी उन सभी की आंखे नम थी। 

CBSE: परीक्षा में पहली बार शुरू की गई मार्किंग स्कीम, क्रिएटिव उत्तर पर भी मिलेंगे अंक

शरीर के अवशेषों को इकट्ठा कर इनकी पहचान का काम शुरु किया गया। खबरों के मुताबिक जवानों के आधार कार्ड, आईडी कार्ड और कुछ दूसरे सामानों की मदद से शवों के पहचान हो पाई। कुछ की पहचान आईडी कार्ड के जरिए हुई। कई जवानों के बैग उनसे दूर हो गए थे तो ऐसे में उनकी कलाईयों पर बंधी घड़ियों से उनकी पहचान हुई। इन घड़ियों की पहचान हमले में बचे उनके ही दोस्तों ने की। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.