Saturday, Jan 22, 2022
-->
the army made foreign diplomats aware of pakistans handiwork albsnt

सेना ने पाकिस्तान की करतूत से विदेशी राजनयिकों को कराया अवगत, कहा-पत्थरबाजी में आई कमी

  • Updated on 2/18/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू-कश्मीर में 5 अगस्त 19 के बाद बदले हालात का जायजा लेने पहुंचे विदेशी राजनयिकों को आज भारतीय सेना ने पाकिस्तान की हरकत के बारे में विस्तार से बताया। इस दौरान इन राजनयिकों को बताया गया कि सीमा पर भारतीय सेनाओं की कड़ी चौकसी के कारण आतंकवादियों की घुसपैठ में भारी कमी आई है। लेकिन अब यह आतंकवादी भारत में सुरंग के रास्ते नए ठिकाने से घुसने की फिराक में जुटे रहते है। 

रंजन गोगोई पर आरोप संबंधी ‘षड्यंत्र’ की सुप्रीम कोर्ट के स्वत: संज्ञान पर शुरू की गई जांच बंद 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 की समाप्ति के बाद विदेशी राजनयिकों का एक दल एक बार फिर भारत दौरे पर पहुंचा हुआ है। इन विदेशी राजनयिकों में  यूरोपीय संघ और इस्लामिक सहयोग संगठन के सदस्य देशों के राजनयिक शामिल है। वे लोग जम्मू-कश्मीर दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे है। सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान की भूमिका पर भी चर्चा की है। सेना के तरफ से यह भी बताया गया कि संघर्ष विराम उल्लंघन को किस तरह से अंजाम दिया जा रहा है। 

पेट्रोल के दाम बढ़ने पर कांग्रेस की अमिताभ-अक्षय को धमकी, बोले- नहीं बोले तो करेंगे शूटिंग का विरोध

सेना ने बताया कि पुलवामा में  सीआरपीएफ के जवानों पर हमले को भी अंजाम देने के लिये सुरंग की मदद ली गई थी। साथ ही बताया गया कि पाकिस्तान अपने क्षेत्र में आतंकवादी कैंप चलाता है। जो इन आतंकवादियों को घुसपैठ करने को लेकर उकसाता रहता है। इस मुलाकात के दौरान सेना ने उन हथियारों को भी दिखाया जो आतंकवादियों से जब्त कर लिये गए। इन हथियारों पर बाकायदा पाकिस्तान की शस्त्र फैक्टरी का निशान भी मौजूद है। युवाओं को गुमराह करने की साजिश भी रची जाती है। विदेशी राजनयिकों को बताया गया कि जम्मू-कश्मीर में अब पत्थरबाजी की घटना में कमी आई है।

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.