Sunday, Feb 18, 2018

हरियाणा में शाह के आगमन से हिंसा भड़कने के आसार:- अभय

  • Updated on 2/10/2018

​​​​नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा को 3 बार हिंसा की आग में झोंक चुकी सरकार एक बार फिर ऐसे ही हालात पैदा करने की तैयारी कर रही है। यदि समय रहते प्रभावी कदम नहीं उठाए गए तो इस अनुभवहीन खट्टर सरकार की वजह से हरियाणा में फिर से हालात बेकाबू हो सकते हैं। यह बात हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने प्रैस वार्ता में कही।

हरियाणा: शाह की रैली से पहले NGT का नोटिस, सरकार ने केंद्र से की सुरक्षा बलों की मांग

उन्होंने कहा कि 15 फरवरी को हरियाणा दौरे पर आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के आगमन मात्र की खबर से ही हरियाणा में सरकार के खिलाफ जिस तरह विरोध के स्वर बुलंद हो रहे हैं और सरकार ने भी हालात से निपटने के लिए केंद्र से 150 अद्र्धसैनिक बलों की कम्पनियां मांगी हैं, उससे जाहिर है कि सरकार आंदोलन से निपटने में नाकाम साबित होती दिख रही है। अभय ने चेतावनी दी कि यदि इस बार हालात बिगड़े और प्रदेश में जान-माल का नुक्सान हुआ तो भाजपा इसका भारी खमियाजा भुगतने के लिए तैयार रहे, क्योंकि अब जनता हिंसा को सहन नहीं करेगी। 

उन्होंने कहा कि अमित शाह किसी भी प्रदेश में जाएं या दिल्ली में ही रहकर अपनी पार्टी संगठन के लिए जो भी बात रखना चाहते हैं रखें, मगर हरियाणा में न आएं, क्योंकि उनके यहां आने से हरियाणा फिर आगजनी की भेंट चढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा में जहां एक ओर जाट आरक्षण आंदोलन का माहौल मुखर हो रहा है, वहीं गैस्ट टीचर्स, आशा वर्कर्स और अन्य संगठन भी सरकार के विरोध में हैं। अभय ने दोहराया कि एस.वाई.एल. का पानी हरियाणा का अधिकार है और वे इसे हासिल करके रहेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.