Friday, Aug 19, 2022
-->
the art of preserving tattoo indias top tatoos states you should know

Tattoos की एक अलग दुनिया, मरने के बाद भी लोगों को रखता है जिंदा

  • Updated on 11/5/2019

नई दिल्ली/अदिती सिंह। टैटू (Tattoo) बनाने की परंपरा 12000 वर्षों से भी पुरानी है, इस प्राचीन कला (Ancient art) को आज तक लोगों ने जिंदा रखा हुआ है। टैटू, पियर्सिंग और बॉडी Modification जो कभी किसी समुदाय की पहचान, संरक्षण और सजावट के रूप में भूमिका निभाता था। आज यह एक फैशन (Fashion) और Trend के रुप में हैं। 

tatoos

आइसमैन के शरीर पर मिला टैटू
अगर National record के अनुसार इसकी बात करे तो त्वचा (Skin) पर गोदने (Tattoo) के प्रमाण केवल 4 वीं Millennium ईसा पूर्व तक फैले हुए हैं। आज तक टैटू वाली मानव त्वचा की सबसे पुरानी खोज Icetzi द आइसमैन (Iceman) के शरीर पर पाई जाती है, जो 3370 से 3100 ईसा पूर्व के बीच की है।

इस मेले में 1.25 लाख में बिकी ‘दीपिका’, औरंगजेब के काल से चली आ रही मेले की परम्परा

tatoos

कहां- कहां मिले सबूत 
ग्रीनलैंड,अलास्का, साइबेरिया, मंगोलिया, पश्चिमी चीन (Western china), मिस्र, सूडान, फिलीपींस और एंडीज के स्थानों सहित 49 पुरातात्विक स्थलों (Archaeological sites) से टैटू वाली ममियां बरामद की गई हैं। इनमें प्राचीन मिस्र की देवी हठोर की पुजारिन (सी। 2134-1991 ईसा पूर्व) अमूनत, साइबेरिया की कई ममी (Mummy) शामिल हैं, जिनमें रूस की और प्री-कोलंबियन दक्षिण अमेरिका में कई संस्कृतियों से शामिल हैं।

क्यो करवाते है लोग tattoo 
tattoo को कई लोग अपनी जिंदगी से जोड़कर देखते हैं। हर टैटू एक कहानी बताता है और इसे किसी भी भाषा (Language) में लिखा जा सकता है। प्रतीकों से लेकर सांस्कृतिक चित्रों को शब्दों और फाॅन्ट डिजाइनों तक। 

आपकी छोटी उंगली है बड़ी खतरनाक, खोल देती है आपके राज

tatoos

बहुत से लोग जिन्हें वे प्यार करते हैं उन की यादों के लिए टैटू को बनवाते हैं। एक टैटू के साथ परंपराओं और जीवन की घटनाओं को संजोकर रखा जा सकता है। जैसा कि कहा जाता है, एक तस्वीर एक हजार शब्द बोलती है।

मरने के बाद भी रख सकते है tattoo वाली स्किन
आज टैटु के जगत मे कई नई खोज हो रही है। हाल ही में एक शोध मे सामने आया है की मरने के बाद कई लोग अपने मरे हुए प्रिय जन उन की याद में उन के tattoo वाली skin रख सकते हैं।

tatoos

भूत और कंकाल बनकर यहां के लोग मनाते हैं यह हैरान कर देने वाला त्योहार

save my ink forever करते है मदद 
यह group एक एसी मुहिम चला रहें है जहा पर मरने वाले कि टैटू skin को निकाल कर एक frame मे कैद कर देते हैं। यह preocess मरने के कुछ घंटो के बाद करा जाता है। इस तरह से लोग अपने करीबियों की यादे संजो कर रख सकते हैं। इस का लाभ कई लोग उठा रहे हैं। जिन्होंने अरने करीबियों कि skin preserve करवाई है। 

भारत में आज भी है कई समुदाय जो पूरे शरीर पर गुदवाते है tattoo 
भारत मे हर संप्रदाय की अपनी अलग-अलग परंपराए है। जी हां भारत मे एक ऐसा समुदाय जो पूरे शरीर पर tatoo गुदवाता है। और हैरत की  बात यह है की इस समाज के लोग न तो मंदिर जाते हैं, और न ही मूर्ति पूजा करते हैं।

tatoos

कहा का है यह समुदाय
यह समुदाय छत्तीसगढ़ के एक ऐसे समाज का है जो पिछले 100 सालों से एक परंपरा को निभाते चला आ रहा है। इस समाज के लोग अपने पूरे शरीर पर राम का नाम के नाम का tatoo बनवाते है। 

comments

.
.
.
.
.