Thursday, Aug 11, 2022
-->
the land mafia will be driven out of hindon, the beauty of the ancient river will flourish soon

हिंडन से खदेड़े जाएंगे भू-माफिया, जल्द निखरेगा प्राचीन नदी का सौंदर्य, बढ़ाई जाएगी हरियाली

  • Updated on 5/11/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। हिंडन नदी का सौंदर्य निखारने, हरियाली बढ़ाने और जल धारा को अविरल रखने के लिए रूपरेखा तैयार की गई है। सौंदर्यीकरण को ध्यान में रखकर अगले 5 साल तक पौधरोपण की योजना पर विचार किया गया है। जिला प्रशासन ने नदी क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त रखने पर जोर दिया है। 

सौंदर्यीकरण की रूपरेखा तैयार
जीडीए, नगर निगम एवं आवास विकास को इस काम में अह्म भूमिका निभानी होगी। नदी की भूमि का सत्यापन कराया जाएगा। सत्यापन की कार्रवाई लेखपालों द्वारा की जाएगी। गाजियाबाद में प्राचीन हिंडन नदी का सौंदर्यीकरण एवं पौधरोपण कार्य जल्द शुरू होगा। मेरठ से गाजियाबाद में यह नदी प्रवेश करती है। 

अगले 5 साल तक की योजना
जनपद में नदी के प्रवेश से लेकर निकास स्थल तक सौंदर्यीकरण कराए जाने पर विचार-विमर्श किया गया है। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि घटते वन क्षेत्र से पशु-पक्षियों के साथ जलीय जीवों का अस्तित्व भी संकट में आ गया है। वातावरण को संतुलित रखने के लिए पौधरोपण बेहद जरूरी है। 

3 विभागों को महत्वपूर्ण जिम्मा
उन्होंने बताया कि गाजियाबाद में हिंडन के सौंदर्यीकरण की योजना पर काम कराया जाएगा। नदी किनारे पौधरोपण से हरियाली को भी बढ़ावा मिलेगा। अगले 5 साल के लिए पौधरोपण का प्रस्ताव तैयार कर जिला वन अधिकारी को भेजने के निर्देश दिए गए हैं। जीडीए, नगर निगम एवं आवास विकास को अलग-अलग दायित्व निभाने होंगे। 

भूमि का स्थलीय सत्यापन जल्द
जिन-जिन गांवों से होकर हिंडन नदी गुजर रही है, वहां के लेखपाल एवं ग्राम प्रधानों को बुलाकर सख्त निर्देश दिए गए हैं। अभिलेखों में दर्ज नदी एवं चारागाह की भूमि पर यदि वर्तमान में नदी का बहाव नहीं है तथा अतिक्रमण है तो उसे तत्काल हटाया जाएगा। 

अवैध निर्माण पर होगी चोट
चरागाह की भूमि यदि खाली है तो इस संबंध में भी प्रस्ताव ग्राम सभा से पारित कराकर वन विभाग को भेजा जाएगा ताकि संबंधित स्थल पर हरियाली फैलाई जा सके। नदी की भूमि पर किसी प्रकार के अवैध निर्माण को कतई बरदाश्त नहीं किया जाएगा।

comments

.
.
.
.
.