Monday, Jan 21, 2019

किराया लेने में बसों की मशीनें फेल, सरकार ने 3 महीने में सभी ETM को बदलने का दिया निर्देश

  • Updated on 1/11/2019

नई दिल्ली/ताहिर सिद्दीकी। डीटीसी और कलस्टर बसों में मेट्रो कार्ड से किराए के भुगतान के लिए कंडक्टरों को मिलीं इलेक्ट्रॉनिक टिकटिंग मशीनें (ईटीएम) अपने मकसद में फेल हो रही हैं। नाराज दिल्ली सरकार ने सभी बसों से इन ईटीएम को हटाकर नई अत्याधुनिक इलेक्ट्रॉनिक टिकटिंग मशीन लेने के निर्देश दिए हैं।

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने डीटीसी और डिम्ट्स को नई टिकटिंग मशीन अगले 3 महीने में हर हाल में खरीद लेने के निर्देश दिए हैं।

रामलीला मैदान के आसपास संभलकर निकलें, दो दिन के लिए ये मार्ग रहेंगे बंद

बता दें कि दिल्ली में इस समय करीब 3,800 डीटीसी और 1,600 क्लस्टर बसें हैं। दिल्ली सरकार ने सभी डीटीसी और कलस्टर बसों में मेट्रो के स्मार्ट कार्ड से किराए के भुगतान के लिए करीब 4 महीने पहले ही सभी बसों में ईटीएम लगा दिए हैं।

इसके लिए करीब 5,400 सैम चिप भी लगाए गए। लेकिन अब सरकार के पास इस तरह की शिकायतें पहुंची हैं कि टिकटिंग मशीन मौके पर काम ही नहीं कर रही।

#BJP का राष्ट्रीय महाकुंभ, मिशन 2019 के लिए जीत का मंत्र देंगे मोदी-शाह

कंडक्टर जब मेट्रो कार्ड को किराया लेने के लिए टिकटिंग मशीनों में लगा रहे हैं तो अक्सर हैंग कर जा रही है। बैटरी भी जल्दी खत्म हो रही है। ऐसे में इन मशीनों से सवारियों का किराया लेने में कंडक्टरों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सूत्र बताते हैं कि सरकार ने इसे 31 मार्च 2019 तक बदलने का फरमान सुना दिया है। बता दें कि दिल्ली देश में पहला शहर है जहां पर कॉमन मोबिलिटी कार्ड का इस्तेमाल शुरू किया गया है।

CBI मामले में स्वामी बोले- फर्जी कानूनी जानकारों की बात नहीं सुनें PM मोदी

भविष्य में सार्वजनिक परिवहन के अन्य साधनों में भी इसका इस्तेमाल करने की योजना है। कॉमन मोबिलिटी कार्ड सभी मेट्रो स्टेशनों,आईएसबीटी व दिल्ली टूरिज्म कारपोरेशन के इंफार्मेशन सेंटरों पर उपलब्ध है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.