Wednesday, Dec 08, 2021
-->
the-most-complex-case-of-black-fungus-surfaced

सामने आया ब्लैक फंगस का सबसे जटिल मामला

  • Updated on 9/20/2021

निकालनी पड़ी किडनी, काटने पड़े फेफड़े
 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के एक निजी अस्पताल में ब्लैक फंगस (म्यूकरमाइकोसिस) का सबसे जटिल मामला सामने आया है। विशेषज्ञ इसे दुनिया का सबसे जटिल और पहला मामला बता रहे हैं।  

दरअसल, रोग की जटिलता कुछ ऐसी थी कि डॉक्टरों को मरीज की जान बचाने के लिए एक किडनी और फेफड़े के हिस्से निकालने पड़े। यहां बता दें कि कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद मरीज ब्लैक फंगस की चपेट में आ गया था। 

यह है पूरा मामला : 
गाजियाबाद निवासी 45 वर्ष के रंजीत कुमार को पिछले महीने सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें सांस लेने में तकलीफ थी और थूक में खून आ रहा था। इसके साथ तेज बुखार भी लगातार बना हुआ था। मरीज की जब जांच की गई तब खुलासा हुआ कि वह ब्लैक फंगस से पीड़ित है।

स्थिति यह थी कि फंगस बांए फेफड़े और दाई किडनी तक फैल गया था। मरीज की जान जोखिम में थी। डॉक्टरों ने मरीज की आपातकालीन सर्जरी करने का फैसला किया। 6 घंटे लगातार चली जटिल सर्जरी के दौरान मरीज के प्रभावित अंग निकाले गए। 

लिवर और बड़ी आंत तक फैलने की कगार पर था फंगस : 
सर गंगा राम अस्पताल के पल्मोनोलॉजी डिपार्टमेंट में सीनियर पल्मोनोलॉजिस्ट डॉ. उज्ज्वल पारख और यूरोलॉजी विभाग के कंसल्टेंट डॉ. मनु गुप्ता के मुताबिक यह बड़ा ही जटिल मामला था। जिसमें किडनी और फेफड़े के हिस्सों को प्रभावित करने के अलावा लिवर और आंत भी प्रभावित होने के कगार पर थे।

ऐसे में बड़ी ही सावधानी से अन्य अंगों को बिना नुकसान पहुचाये प्रभावित अंगों को निकाल लिया गया। यह मेडिकल हिस्ट्री का ऐसा पहला और जटिल मामला है।  मरीज को अभी आगे कुछ दिनों तक एंटी फंगल दवाइयां खाने के निर्देश दिए गए हैं। उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.