Friday, Jul 01, 2022
-->
the-pace-of-vaccination-in-the-age-group-of-12-to-14-is-slow-even-half-the-children

12 से 14 आयु वर्ग के टीकाकरण की गति धीमी, लक्ष्य से आधे बच्चों को भी नहीं लगा कोरोनारोधी टीका 

  • Updated on 4/4/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। जनपद गाजियाबाद में 12 से 14 साल के बच्चों को कोरोनारोधी टीका लगाने की गति अभी भी धीमी  है। सोमवार को भी स्वास्थ्य केंद्रों पर केवल 2161 बच्चों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। जबकि विभाग प्रतिदिन 5 हजार से अधिक बच्चों को टीका लगाने का लक्ष्य तैयार करता है। स्वास्थ्य विभाग को जनपद में 1.41 लाख बच्चों का टीका लगाया जाना है। लेकिन, अभी तक कुल 46476 बच्चों को ही टीका लगाया जा सका है।

विभागीय अधिकारी बताते है कि सोमवार से अधिकांश स्कूल नए सत्र की पढ़ाई को लेकर खुल गए है। स्कूलों से संपर्क कर जल्द ही सभी स्कूलों में टीका लगाया जाएगा। पूर्व में कुछ ही स्कूलों में टीका लगाया जा रहा था। कोरोना से बचाव के लिए 15 साल तक के बच्चों के बाद इससे कम आयु वर्ग 12 से 14 साल के बच्चों को 16 मार्च से टीका लगाना शुरू किया जा चुका है।

टीकाकरण को लेकर शासन स्तर से विभाग को एक लाख 41 हजार से अधिक बच्चों को टीका लगाने का लक्ष्य भी दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 16 मार्च से ही स्वास्थ्य केंद्रों पर टीका लगाने का कार्य कर रहा है। लेकिन, कम संख्या में बच्चों के केंद्रों पर पहुंचने के चलते टीकाकरण गति नहीं पकड़ पा रहा है। जिसके बाद सभी स्वास्थ्य केंद्र प्रभारियों से स्कूलों में संपर्क कर टीका लगाने का निर्णय लिया गया।

इसके बाद भी टीकाकरण को गति नहीं मिल सकी। जिले में सोमवार को कुल 2161 बच्चों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। अब तक आधा लक्ष्य भी हासिल नहीं हुआ है। अभी तक इस आयु वर्ग के कुल 46476 बच्चों को टीका लगाया जा सका है। टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ. जीपी मथुरिया ने कहना है कि नए सत्र को लेकर अब अधिकांश स्कूल खुल चुके है। इन सभी स्कूलों की सूची तैयार की जा रही है। स्कूलों से संपर्क कर टीकाकरण को बढ़ाया जाएगा। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.