Thursday, Jan 20, 2022
-->
the-road-to-admission-in-colleges-will-be-difficult

कॉलेजों में प्रवेश की राह होगी कठिन 

  • Updated on 9/13/2021

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गाजियाबाद के डिग्री कॉलेजों में इस साल स्नातक में प्रवेश लेना बीते वर्ष से भी कठिन होगा। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार परीक्षा रद्द होने से तीनों बोर्ड के स्कूलों में 12वीं का पास प्रतिशत 99 फीसदी रहा है। ऐसे में एक-एक सीट के लिए मारामारी रहेगी। छात्रों को निजी कॉलेजों की ओर रूख करना पड़ेगा। जिले में यूपी बोर्ड, सीबीएसई व आईसीएसई तीनों बोर्ड से मिलाकर करीब 40 हजार से अधिक विद्यार्थी है।

जबकि जनपद में नौ राजकीय व एडेड डिग्री कॉलेजों में करीब 6500 सीट हैं। जिन पर इस बार भी और अधिक मारामारी देखने को मिलेगी। कोरोना संक्रमण के प्रकोप के चलते इस साल सभी बोर्ड की परीक्षाएं रद्द कर दी गई थी। जिसके चलते प्री-बोर्ड व पिछली कक्षाओं के अंक के आधार पर बोर्ड का परीक्षा परिणाम जारी किया गया। जिसके चलते पास प्रतिशत भी 99 फीसदी से अधिक रहा है। इसके अलावा कोरोना संक्रमण के चलते पिछली साल कई छात्रों ने विश्वविद्यालय में प्रवेश नहीं लिया। ऐसे में इस साल विश्वविद्यालय से संबंद्ध कॉलेजों में प्रवेश के लिए छात्रों की संख्या बढ़ गई है। 
 

कॉलेजों में सीट की स्थिति 
शंभूदयाल डिग्री कॉलेज में बीए की 480 व बीकॉम की 180 सीट। एमएमएच डिग्री कॉलेज में बीए की 540, बीकॉम में 300 व बीएससी में 40 सीट है। कांशीराम कॉलेज में बीए की 140, बीकॉम की 60 व बीएससी की 120 सीट मौजूद है। एमएम कॉलेज मोदीनगर में बीए में 240, बीकॉम की 120 व बीएससी की 240 है। गिन्नी देवी कॉलेज में बीए की 480 व बीकॉम की 60 सीट। केडी कॉलेज में बीए की 360 व बीएससी में 120 सीट। वीएमएलजी कॉलेज में बीए की सबसे अधिक 540, बीकॉम की 120, बीएससी की 60 सीट पर प्रवेश होगा। एलआर कॉलेज में बीए की 420, बीकॉम की 120 व बीएससी की 120 सीट। जनता कॉलेज में 140 बीए की सीट है। इसके अलावा फिजिकल एजुकेशन अन्य कोर्स से भी करीब स्नातक की एक हजार से अधिक सीटें है। 
 

अधिक रजिस्ट्रेशन की उम्मीद     
इस साल बीते वर्ष के अपेक्षा अधिक रजिस्ट्रेशन की उम्मीद है। जिसका कारण स्कूलों का शतप्रतिशत रिजल्ट होना है। जिले में ही अब तक 10 हजार से अधिक आवेदन हो चुके है। एमएमएच डिग्री कॉलेज के चीफ प्रोक्टर संजय सिंह का कहना है कि सत्र 2021-22 में स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में 20 अगस्त से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू हो चुके है। सीटों के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा।
------

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.