Tuesday, Dec 07, 2021
-->
the will of the parents will be important in the kovid security arrangements in schools: teachers

स्कूलों में कोविड सुरक्षा इंतजामों में अभिभावकों की मर्जी होगी अहम : शिक्षक

  • Updated on 10/27/2021

नई दिल्ली/पुष्पेंद्र मिश्र। 2020 में आयी कोरोना महामारी के बाद पहली बार राजधानी में पहली से 8वीं तक के स्कूलों को 50 फीसद क्षमता के साथ खोलने की मंजूरी दे दी गई है। एक नवम्बर से सभी तरह के स्कूल खोलने के फैसले पर विद्या बाल भवन स्कूल मयूर विहार के प्रिंसिपल सतवीर शर्मा ने कहा कि उपराज्यपाल का फैसला स्वागत योग्य है। आज से ही हम अभिभावकों के साथ बैठकों का आयोजन शुरू कर रहे हैं। हम उनके लिए गूगल फॉर्म बना रहे हैं जहां वह हमें यह भी सुझाव दे सकते हैं कि उनके बच्चे की सुरक्षा के लिए वह क्या-क्या जरूरी मानते हैं।

एम्स,आईआईटी दिल्ली ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिए कैपर इंडिया नेटवर्क लॉन्च किया

डेढ़ वर्ष बाद वापस बच्चों को स्कूल बुलाना अच्छा फैसला 
इसके बाद स्कूल को पूरी तरह कोविड-19 नियमों से तैयार कर अभिभावकों को एक बार स्कूल बुलाया जाएगा। जिसके बाद एक नवम्बर से वह बच्चों को भेजना शुरू करेंगे। फैसले पर शिक्षक संतराम ने कहा कि दो महीने से 9वीं से 12वीं तक के बच्चे स्कूल आ रहे थे। कोई बड़ा मामला संक्रमण का सामने नहीं आया ऐसे में 20 माह से स्कूलों से दूर बच्चों को वापस स्कूल बुलाना अच्छा फैसला है।

राजधानी की 649 छात्राओं को दिया जाएगा आत्मरक्षा प्रशिक्षण

उपराज्यपाल ने अभिभावकों को दिया दीवाली का तोहफा : जैन
इस फैसले पर दिल्ली स्टेट पब्लिक स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष आरसी जैन ने कहा कि ये दिल्ली के अभिभावकों को उपरा'यपाल द्वारा दीवाली का तोहफा है। डेढ़ वर्षों से गरीब ब"ो स्कूलों से दूर हैं कई अन्य ब"ो ऑनलाइन पढ़ाई कर सकने में सक्षम नहीं थे। इस फैसले ने लाखों अभिभावकों के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम किया है।

इंजीनियरिंग कॉलेजों में नए छात्रों के लिए 30 नवम्बर से शुरू होगा अकादमिक सत्र : एआईसीटीई

सरकार को कुछ और दिन रुककर लेना चाहिए था स्कूल खोलने पर फैसला 
वहीं इस फैसले पर दिल्ली पैरेंट एसोसिएशन की अध्यक्ष अपराजिता गौतम कहती हैं कि सरकार को अभी कुछ और दिन इंतजार करके निर्णय लेना चाहिए था। उन्होंने कहा कि उनसे जुड़े अधिकांश अभिभावक त्यौहारी सीजन के बाद ही ब"ाों को स्कूल भेजना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.