Saturday, Jan 18, 2020
there is a conflict of interest in every profession: anil kumble

अनिल कुंबले बोले, जिंदगी में होता है प्रत्येक व्यक्ति के साथ हितों का टकराव

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्व भारतीय कप्तान और कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble ) का मानना है कि जिंदगी में प्रत्येक व्यक्ति के साथ हितों का टकराव होता है लेकिन उचित खुलासा महत्वपूर्ण है। हितों के टकराव के आरोपों के कारण हाल में कई दिग्गज क्रिकेटरों जैसे सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली को नोटिस जारी किया गया और अब राहुल द्रविड़ भी इस सूची में शामिल हो गये हैं।  

मोदी के बाद लद्दाख को धोनी का तोहफा, 15th August को फहरा सकते हैं तिरंग

कुंबले ने यहां शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘‘मेरा मानना है कि प्रत्येक पेशे में, जिंदगी के हर पड़ाव में टकराव होता है। आप इससे कैसे निबटते हैं, आप पहले इनका कैसे खुलासा करते हैं यह महत्वपूर्ण है। एक बार जब लोगों को पता चल जाएगा कि आप इन चीजों में संलिप्त हैं तो फिर मुझे नहीं लगता कि किसी तरह का टकराव होगा। 

बजरंग पूनिया जल्द बनने जा रहे हैं फोगाट फैमिली के दामाद, संगीता से होगी शादी

 कुंबले ने इस स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया क्योंकि भारत के 300 टेस्ट क्रिकेटर में से केवल 50 प्रतिशत ही जीवित हैं और वे भी ऐसी स्थिति में क्रिकेट को अपनी सेवाएं नहीं दे पाएंगे। उन्होंने कहा देश में अभी तक केवल 300 टेस्ट क्रिकेटर ही हुए हैं और उनमें से 50 प्रतिशत ही जीवित हैं। यही क्रिकेटर वापस क्रिकेट को कुछ दे सकते हैं। अगर आप नहीं चाहते कि वे वापस क्रिकेट की सेवा करें तब मुझे लगता है कि आपको क्रिकेट में योगदान देने के लिये किसी अन्य को ढूंढना होगा।

टीम इंडिया के फिल्डिंग कोच की दौड़ में उत्तराखंड के राकेश शर्मा

कुंबले ने कहा यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हर क्रिकेटर को हितों के टकराव से जूझना पड़ता है और आप जानते हैं कि इनमें से कुछ ही योगदान दे सकते हैं। केवल कुछ क्रिकेटर ही भारत की तरफ से खेले हैं। ’’ 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.