Saturday, Jan 22, 2022
-->
this is our country, our victim of oppression at the hands of our own pragnt

'यह है भारत देश हमारा' 'अपनों के हाथों ही हुए जुल्म के शिकार'

  • Updated on 12/26/2020

जितनी तेजी से हमारा देश तरक्की की सीढियां चढ़ रहा है, उतनी ही तेजी से इसका नैतिक पतन भी हो रहा है और आज हम अपने उच्च संस्कारों, मान्यताओं एवं मर्यादाओं से किस कदर दूर हो गए हैं, यह 10 दिनों की निम्न 18 हृदयविदारक घटनाओं से स्पष्ट है : 

गृह मंत्री अमित शाह पूर्वोत्तर के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे असम, मुख्यमंत्री सोनोवाल ने किया स्वागत

* 14 दिसंबर को फिरोजपुर के 'कुलगढ़ी' गांव में एक महिला ने अपने पति के विरुद्ध 14 वर्षीय सगी बेटी के मुंह में कपड़ा ठूंस कर उसके साथ बलात्कार करने के आरोप में केस दर्ज करवाया।  

* 14 दिसंबर वाले दिन ही राजस्थान के 'नागौर' में एक 14 वर्षीय नाबालिग से बलात्कार करके उसे गर्भवती करने के आरोप में उसके सगे भाई के विरुद्ध केस दर्ज किया गया जिसने अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया है। 

* 14 दिसंबर को ही उत्तर प्रदेश के मेरठ में कुत्तों के लिए रोटी न पकाने पर एक व्यक्ति ने अपनी बहन को गोली मार कर उसकी हत्या कर दी।

* 15 दिसंबर को गोराया में पत्नी द्वारा तलाक का केस लगाने से गुस्साए एक व्यक्ति ने कृपाण से ताबड़तोड़ कई वार करके उसे मार डाला।

2022 गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस ने बनानी शुरू की रणनीति, 7 महत्वपूर्ण समितियों का किया गठन

* 15 दिसंबर को बटाला में ससुराल में घरजमाई बन कर रह रहे नवजोत सिंह नामक व्यक्ति को जायदाद के लालच में अपने इकलौते 15 वर्षीय साले कर्ण कुमार की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया।  

* 15 दिसंबर को ही वाराणसी में राजेंद्र सोनकर नामक व्यक्ति को अपनी पत्नी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त के अनुसार उसने यह अपराध इसलिए किया क्योंकि उसे संदेह था कि उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ अनुचित संबंध जारी रखने के लिए उसे कोई दवा खिलाकर नपुंसक बना दिया है। 

* 16 दिसंबर को नवांशहर थाना सिटी पुलिस ने एक महिला के ससुर पर उसकी नहाते समय फोटो खींच कर सार्वजनिक करने की धमकी देकर उससे बलात्कार करने के आरोप में केस दर्ज किया।

* 17 दिसंबर को मध्य प्रदेश के इंदौर में पति-पत्नी की हत्या के मामले में मृतकों की नाबालिग बेटी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया गया। 

* 18 दिसंबर को लुधियाना के गांव 'ताजपुर' में अपने प्रेमी और उसके मित्र की सहायता से अपने पति की हत्या करने के आरोप में एक महिला और उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया गया। 

* 18 दिसंबर को सरदूलगढ़ के गांव 'झंडा कलां' में भूमि विवाद के कारण एक युवक ने अपने चाचा गुरनाम सिंह को मार डाला।

* 18 दिसंबर को ही उत्तर प्रदेश में 'बांदा' के 'बिसांदा' गांव में एक व्यक्ति ने घर में अकेली पाकर अपनी भाभी के साथ बलात्कार कर डाला व किसी को बताने पर उसके अढ़ाई वर्ष के बेटे को जान से मारने की धमकी दी।

किसानों को बदनाम करना बंद करे मोदी सरकार, कृषि कानूनों करे निरस्त : बादल

* 19 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के 'हमीरपुर' में ननिहाल आए बेटे द्वारा अपनी मां को एक रिश्तेदार के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लेने पर क्रुद्ध मां ने अपना पाप छिपाने के लिए 7 वर्षीय बेटे को मार डाला।

* 20 दिसंबर रात को हरियाणा के 'झज्जर' शहर में एक व्यक्ति ने एक पांच वर्षीय बच्ची के जन्मदिन वाली रात उससे बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या कर दी। 

* 20 दिसंबर को ही 'झारखंड' में 'चतरा’ के 'खैरा' गांव में बेटी के जन्म से नाराज पिता व दादी ने 2 महीने की मासूम बेटी को गला घोंट कर मार डाला।

* 21 दिसंबर को पटियाला के थाना 'जुल्कां' के गांव ‘करतारपुर’ में एक महिला ने प्रेम सम्बन्धों में बाधा बने पति पर डीजल डाल कर उसे जला डाला। 

* 21 दिसंबर को ही जालन्धर के 'बाबा बुड्ढा जी नगर' में एक मुंहबोले फूफा अपनी 2 वर्षीय भतीजी को खेलने के बहाने अपने साथ ले गया और उसके साथ बलात्कार कर लहू-लुहान हालत में उसके घर छोड़ गया। 

* 21 दिसंबर को गुजरात के 'राजकोट' में रूठी पत्नी को मनाने ससुराल गए व्यक्ति ने अपनी 10 वर्षीय साली से बलात्कार कर डाला।

* 23 दिसंबर को 'ग्रेटर नोएडा' में एक व्यक्ति के विरुद्ध अपनी बेटी से लगातार बलात्कार करने के आरोप में केस दर्ज करवाया गया।

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन को एक महीना पूरा, आगे की रणनीति पर अहम बैठक आज

उक्त घटनाओं से स्पष्ट है कि आज लोग अपने उच्च आदर्श व शिक्षाएं भूल कर किस कदर नैतिक पतन के गड्ढे में गिरते जा रहे हैं। इसे रोकने के लिए शैक्षणिक, धार्मिक तथा सामाजिक संस्थाओं को लोगों में उच्च संस्कार भरने की जरूरत है ताकि एक स्वस्थ समाज का निर्माण हो सके। इसके साथ ही इस तरह के कुकृत्यों के दोषी लोगों को शिक्षाप्रद सजा देने के लिए कठोर कानूनी प्रावधान करने और उन पर तेजी से अमल यकीनी बनाने की जरूरत है जिससे इस तरह के अपराध रुक सकें।

—विजय कुमार

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.