Wednesday, May 12, 2021
-->
tmc mamata banerjee west bengal tableau republic day 2020 parade caa''''''''s revenge

26 जनवरी की झांकी को लेकर TMC का बीजेपी पर हल्ला बोल, कहा- CAA का लिया बदला

  • Updated on 1/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र सरकार (Central Government) और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के बीच राजनीतिक लड़ाई थमने का नाम नहीं ले रही है। अब इसका असर इस साल गणतंत्र दिवस परेड (Republic Day Parade) के दौरान देखने को मिलेगा, जब पश्चिम बंगाल (West Bengal) की झांकी नहीं दिखेगी। गणतंत्र दिवस 2020 (Republic Day 2020) के लिए पश्चिम बंगाल की झांकी के प्रस्ताव को चयन करने वाली एक्सपर्ट कमेटी ने खारिज कर दिया है। बंगाल की झांकी के प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिलने को लेकर गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) ने केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) पर हमला बोला है।  

प. बंगाल में ममता बनर्जी का किला ढहाने के लिए बांग्ला सीख रहे हैं अमित शाह

मंत्रालय ने प्रस्ताव को किया खारिज
तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA 2019) के खिलाफ राज्य में प्रदर्शन के परिणामस्वरूप यह निर्णय लिया गया। उसने इसे राज्य और यहां की जनता का अपमान बताया। रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को पश्चिम बंगाल की झांकी का प्रस्ताव खारिज कर दिया था। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार (West Bengal Government) का प्रस्ताव एक विशेषज्ञ समिति द्वारा दो चरण में पड़ताल करने के बाद खारिज हुआ है।

CAA के खिलाफ TMC की रैलियों के जवाब में अभियान चलाएगी भाजपा

बंगाल की झांकी को नहीं मिली मंजूरी
मंत्रालय ने कहा था, "यहां यह जानकारी देना आवश्यक है कि पश्चिम बंगाल सरकार की झांकी को गणतंत्र दिवस 2019 में हिस्सा लेने के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया था। यह इसी प्रक्रिया के जरिए चुनी गई थी।'' इसमें आगे कहा गया, "विशेषज्ञ समिति ने दूसरी बैठक में सोच विचार के बाद पश्चिम बंगाल सरकार की झांकी के प्रस्ताव को आगे नहीं बढ़ाया।" मंत्रालय को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से झांकियों के 32 और केंद्रीय मंत्रालयों एवं विभागों से 24 प्रस्ताव मिले थे। मंत्रालय द्वारा जारी बयान बयान में कहा गया है, "पांच बैठकों के बाद उनमें से राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के 16 और मंत्रालयों/विभागों के छह प्रस्ताव मिलाकर कुल 22 प्रस्ताव अंतिम रूप से गणतंत्र दिवस परेड 2020 के लिए चुने गए हैं।"

ममता बनर्जी की चैतावनी- जब तक मैं जिंदा हूं, बंगाल में लागू नहीं होगा CAA

केंद्र सरकार बदले की भावना से ग्रसित
पश्चिम बंगाल में संसदीय मामलों के मंत्री तापस रॉय ने आरोप लगाया कि केंद्र की भाजपा नीत सरकार ने राज्य के प्रति बदले की भावना पाल रखी है। उन्होंने कहा कि चूंकि पश्चिम बंगाल केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध कर रही है इसलिए उसके साथ सौतेला व्यवहार हो रहा है।

बंगाल में NRC को लेकर BJP और TMC आमने-सामने, ममता बोलीं राज्य में नहीं लागू होने दूंगी

बीजेपी ने दिया जवाब
टीएमसी के आरोपों के जवाब में पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने कहा कि झांकी का प्रस्ताव इसलिए खारिज हुआ क्योंकि राज्य सरकार ने प्रस्ताव पेश करने में नियमों एवं प्रक्रिया का पालन नहीं किया था। उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस को हर मुद्दे पर राजनीति करना बंद करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.