Tuesday, Aug 21, 2018

सीलिंग के खिलाफ लाखों कारोबारी उतरे सड़कों पर, BJP ने किया बैठक का बहिष्कार

  • Updated on 3/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी में हो रही सीलिंग की कार्रवाई से नाराज होकर कारोबारियों ने मंगलवार को ‘दिल्ली बंद’ बुलाया है।  इसमें 2500 से अधिक व्यापारिक संगठनों के करीब 7 लाख कारोबारी हिस्सा ले रहे हैं। थोक बाजार और रिटेल बाजार पूरी तरह बंद हैें। जगह- जगह पर व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन जारी है। उधर, सीलिंग की समस्या का समाधान तलाशने को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बुलाई गई बैठक का भाजपा ने बहिष्कार किया है।

करोल बाग स्थित आर्य समाज रोड पर हजारों कारोबारी ‘व्यापारी पंचायत’ भी कर रहे हैं। कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि सीलिंग से बचाने के लिए केंद्र सरकार तुरंत चालू सत्र में ही एक मोरेटोरियम बिल लाकर व्यापारियों को राहत दिलाएं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी भूख हड़ताल का सियासी ड्रामा छोड़कर 16 मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र के पहले दिन सीलिंग पर रोक का बिल पारित करें और मंजूरी के लिए केंद्र सरकार को भेजें। बंद में चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री का भी समर्थन है।  सभी सियासी दल के व्यापार संगठनों ने समर्थन दिया है।

CM योगी आदित्यनाथ के पिता कि तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में करवाया भर्ती

3 महीनों के दौरान 3867 दुकानें सील हो चुकी हैं। छोटी-बड़ी ट्रेड एसोसिएशन्स ने सर्कुलर भेजकर समर्थन किया है। वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रदीप गुप्ता और महासचिव रमेश आहूजा ने बताया कि चांदनी चौक, सदर बाजार, चावड़ी बाजार, खारी बावली, कनॉट प्लेस, गांधी नगर, लक्ष्मी नगर, अशोक विहार, राजौरी गार्डन, लाजपत नगर, तिलक नगर व मॉडल टाउन समेत छोटे-बड़े बाजार बंद रहेंगे।&

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.