Wednesday, Sep 18, 2019
traffic penalty may be reduced, gujarat reduced by 90%

जल्द ही मिल सकती है भारी ट्रैफिक जुर्माने से राहत! कई राज्य इस पर कर रहे विचार

  • Updated on 9/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मोटर वीइकल्स ऐक्ट में संसोधन किए केंद्र सराकर को अभी 10 दिन ही दिन बीते हैं और गुजरात सरकार ने अपने राज्य में ट्रैफिक जुर्माने को घटा दिया है। इस क्रम में गुजरात सरकार ने केंद्र द्वारा बढ़ाए जुर्माने को 25 फिसदी से 90 फिसदी तक कम कर दिया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने  इसके लिए मानवीय आधार को कारण बताया है। 

जुर्माना बढ़ा तो नियम का पालन करते दिखे दिल्लीवाले

नए मोटर वीइकल्स ऐक्ट के तहत राज्यों को कुछ अधिकार दिए गए हैं
बता दें कि नए मोटर वीइकल्स ऐक्ट के तहत राज्यों को कुछ अधिकार दिए गए हैं जिससे अगर राज्य चाहे तो कुछ स्थिति में जुर्माना घटा सकती है। अब बताया जा रहा है कि गुजरात के बाद अन्य राज्य भी ट्रैफिक जुर्माना घटा सकते हैं। गुजरात में  16 सितंबर से नए जुर्माने लागू किए जाएंगे। नए जुर्माने के अनुसार टू वीलर पर ओवरलोडिंग के लिए 100 रुपये जुर्माना है जो पहले केंद्र सरकार द्वारा जारी अधिसूचना में 1000 रुपये था ऐसे ही अग्निशमन और ऐम्बुलंस को रास्ता न देने पर 1000 रुपये जुर्माना है जो पहले 10,000 रुपये था। इसके साथ ही सीट बेल्ट या हेलमेट नहीं पहनने पर, दोपहिया पर ट्रिपलिंग,स्पीडिंग, ड्राइविंग लाइसेंस न होना जैसे ट्रैफिक नियम पर जुर्माने में बदलाव कर कम किया गया है। 

15 हजार की स्कूटी का कटा 23 हजार का चालान, मालिक सोच रहा है क्या करे !

कई ट्रैफिक जुर्माना नहीं बदला गया
वहीं कई ऐसे ट्रैफिक जुर्माना है जिसे गुजरात सरकार ने नहीं बदला है जैसे शराब पिकर गाड़ी चलाने और ट्रैफिक सिग्नल तोड़ने पर केंद्र सरकार द्वारा जारी जुर्माना ही लागू होगा। क्योंकि इसमें बदलाव का प्रवधान नहीं है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य ज्यादा जुर्माना लेना नहीं है। उन्होंने कहा 'नए कानून को बिना कड़ी सजा दिए लागू करना मुमकिन नहीं है। हमने मानवीय रुख अपनाया है और जुर्माना कम किया है ऐसे मामलों में नरमी नहीं बरती जाएगी जहां लोगों की जान चली गई हो। जो लोग बार-बार ट्रैफिक नियम तोड़ते है, उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाई होगी'। 

DELHI: चालान कटने पर गुस्से में लगा दी अपनी ही बाइक में आग, जानें पूरा मामला

कई राज्यों में मोटर वीइकल्स एक्ट लागू नहीं हुआ
अभी तक यह मोटर वीइकल्स एक्ट कांग्रेस शासित राज्य मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, और पंजाब में लागू नहीं हुआ था इसके साथ ही गुजरात में भी यह नियम लागू नहीं हुआ था। पश्चिम बंगाल, राजस्थान और मध्य प्रदेश पहले ही केंद्र सरकार के फैसले को लेकर सवाल उठा चुके हैं। इसके अलावा कर्नाटका सरकार का कहना है कि अगर दुसरे राज्य ट्रैफिक जुर्माना कम करते है तो हम भी इस पर विचार करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.