Sunday, Sep 19, 2021
-->
trial of covaxin on children started, first dose given to 3 children in patna aiims kmbsnt

बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल शुरू, पटना एम्स में 3 बच्चों को दी गई पहली डोज

  • Updated on 6/3/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि तीसरी लहर बच्चों के लिए भी खतरनाक साबित हो सकती है। इस लहर में बच्चों पर ज्यादा प्रभाव पड़ेगा। इस बीच एक ख़ुशख़बरी भी है। बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल शुरू हो गया है। पटना एम्स में 2 जून को बच्चों पर वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल किया गया।

क्लिनिकल ट्रायल के तहत 3 बच्चों को कोवैक्सीन की पहली डोज़ दी गई। आपको बता दें, कि कोवैक्सीन के ट्रायल के लिए पहले दिन 15 बच्चे पहुंचे थे, इनमें से 3 बच्चों को ही वैक्सीन की पहली डोज के लिए पूरी तरह फिट पाया गया।  जिन 3 बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है वो पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को दिया कोरोना टीकाकरण नीति पर दस्तावेज पेश करने का निर्देश

80 बच्चों पर ट्रायल करने का लक्ष्य
पटना एम्स को कुल 80 बच्चों पर ट्रायल करने का लक्ष्य दिया गया है। पटना एम्स के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. चंद्रमणि सिंह की देखरेख में पूरी प्रक्रिया की गई। सबसे पहले सभी बच्चों का आरटी-पीसीआर किया गया, और एंटीबॉडी की जांच की गई। इस पूरी जांच में 15 में से केवल 3 बच्चे ही फिट पाए गए।

मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख पटनायक ने केंद्र की तरफ से कोविड टीकों की खरीद की वकालत की 

बच्चों के स्वास्थ्य पर पूरी नजर
पटना एम्स ने इन तीनों बच्चों के माता-पिता को एक डायरी दी है। अस्पताल की तरफ से कहा गया है कि इनके स्वास्थ्य पर पूरी नजर रखें। माता-पिता को ये भी निर्देश दिया गया है कि अगर बच्चों को कोई परेशान होती है, तो तुरंत पटना एम्स से संपर्क किया जाए। तीनों ही बच्चों  को अब 28 दिन के बाद दूसरी खुराक दी जाएगी। जब उन्हें दोनों डोज लग जाएंगी इसके बाद वैक्सीन के किसी भी दुष्परिणाम को जांचनेके लिए बच्चों की पूरी तरह से जांच होगी।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.