Tuesday, Jan 25, 2022
-->
trp-scam-mumbai-police-arrested-former-coo-of-rating-agency-barc-rkdsnt

टीआरपी घोटाला: रेटिंग एजेंसी बार्क के पूर्व सीओओ को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार

  • Updated on 12/17/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुंबई पुलिस ने कथित टीआरपी (टेलीविजन रेटिंग प्वांइट) घोटाला मामले में ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) के पूर्व मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया। एक अधिकारी ने बताया कि टीआरपी मामले की जांच कर रही मुंबई अपराध शाखा की टीम ने बार्क के पूर्व सीओओ रोमिल रामगढिय़ा को दोपहर को गिरफ्तार कर लिया। यह इस मामले में 14वीं गिरफ्तारी है। 

ड्रग्स मामले में अब करण जौहर से पूछताछ करेगी NCB, भेजा समन

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘जांच के दौरान, मामले में रागगढिय़ा की कथित संलिप्तता का पता चला, जिसके बाद उन्हें आज गिरफ्तार कर लिया गया।’’ उन्होंने बताया कि रामगढिय़ा को एक स्थानीय अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा। पुलिस ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के सीईओ विकास खानचंदानी को टीआरपी घोटाले के सिलसिले में रविवार को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि एक अदालत ने बुधवार को उनकी जमानत मंजूर कर ली। 

केजरीवाल ने कृषि कानूनों की प्रतियां फाड़ी, मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ

गौरतलब है कि बार्क द्वारा हंसा रिसर्च एजेंसी के माध्यम से कुछ चैनलों के खिलाफ टीआरपी में धांधली करने की शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस ने इस कथित घोटाले की जांच शुरू की थी। कुछ घरों में मशीनों के जरिए दर्शकों की संख्या का पता लगाकर टीआरपी मापी जाती है। यह रेटिंग विज्ञापन आर्किषत करने के लिए अहम होती है। 

मोदी सरकार के रवैये से नाराज राहुल गांधी ने लोकसभा अध्यक्ष को लिखा पत्र

बार्क ने कुछ घरों में टीवी के दर्शकों की संख्या रिकॉर्ड करने वाले बैरोमीटर लगाने और उनकी देख-रेख करने का जिम्मा हंसा को दिया था। आरोप है कि जिन कुछ घरों में बैरोमीटर लगाए गए थे, उनमें से कुछ परिवारों को रिश्वत देकर टीवी पर कुछ विशेष चैनल चलाने के लिए कहा गया, ताकि उनकी टीआरपी बढ़ सके।      रिपब्लिक टीवी ने कुछ भी गलत करने की बात से इनकार किया है। 

मास्क नहीं पहनने पर आम आदमी पार्टी ने पीएम मोदी पर किया कटाक्ष

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 


 

comments

.
.
.
.
.