Thursday, Apr 02, 2020
trump visit india ahmedabad pm narendra modi gujarat

जानें कैसी हैं ट्रंप के स्वागत की तैयारी, ‘हाउडी मोदी’ वालों की नजर है ‘नमस्ते ट्रम्प’ पर

  • Updated on 2/24/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कई दिनों की दिन-रात की लगातार मेहनत से दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की मेजबानी को तैयार है। सब यह जानना चाहते हैं कि अब यह स्टेडियम कैसा लग रहा है। खासकर इसकी तुलना ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम (NRG Stadium) से स्वभाविक है, जहां पिछले साल ‘हाउडी मोदी’ (Howdy Modi) कार्यक्रम हुआ था। 

एक दिन पहले ही मीडियाकर्मियों को इसकी सैर कराई गई। स्टेडियम के चारों ओर निचली कतारों में भगवा रंग की प्लास्टिक की कुर्सियां लगाई गई हैं। ऊपर की कतारों में नीली, पीली और भगवा रंग की कुर्सियां इस तरह लगाई गई हैं कि ऊंचाई से देखने पर ये रंग काफी आकर्षक दिखाई देते हैं। उम्मीद की जा रही है कि सोमवार को एक लाख से ज्यादा लोग इन कुर्सियों पर बैठ सकेंगे।

ट्रंप के 5 विवादित बोल जिससे हुई किरकिरी तो बटोरी दुनिया भर में सुर्खियां

ट्रम्प के आने से अहमदाबाद के कुछ मोहल्ले तो सुधरे
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सोमवार को पत्नी के साथ अहमदाबाद आ रहे हैं। उनके स्वागत में करोड़ो रुपये खर्च किए गए हैं। इससे अहमदाबाद के कई मोहल्लों जो ट्रम्प के काफिले के तय रास्ते पर पड़ते हैं, को काफी फायदा हुआ है। मोहल्लों में सफाई और बिजली के जो काम वर्षों से गुहार लगाने के बाद भी सरकार और नगर निगम नहीं कर रहा था, अब झटपट हो गए हैं। यह देखकर अन्य मोहल्लों के लोग भी चाह रहे हैं कि काश ट्रम्प उनके इलाके से होकर जाते। 

अमहमदाबाद मिरर की रिपोर्ट के अनुसार ट्रम्प-मोदी रोडशो के रास्ते में आने वाली सड़कें, उस इलाके में जल आपूर्ति और स्ट्रीट लाइट्स सुधार दी गई हैं। कई जगह ऐसी थीं, जहां गुहार के बावजूद कचरा महीनों नहीं उठता था, अब उन गारबेज डम्प्स को हटा कर जगह को साफ कर दिया गया है। लोगों को दुर्गंध से निजात मिल गई है। मोटेरा और चंद्रखेड़ा की स्ट्रीट्स लाइटें युद्धस्तर पर सुधारी गई हैं। जगतपुर, गोटा, सारखेज, गुरुकुल आदि इलाकों में लोग वर्षों से पेयजल संकट से जूझ रहे थे। सड़कें जगह-जगह से टूटी थीं। लोगों की गुहार अधिकारी सुनते नहीं थे। मगर अब नजारा पूरी तरह बदला हुआ है। घरों में पानी आने लगा है। नगर निगम ने 23 करोड़ रुपये खर्च कर इन इलाकों की सड़कों को नया बना दिया है।

हाउडी मोदी’ वालों की नजर है ‘नमस्ते ट्रम्प’ पर
बीते साल सितंबर में यहां ऐतिहासिक ‘हाउडी, मोदी’ कार्यक्रम आयोजित करने वाली टीम की नजर 24 फरवरी को अहमदाबाद में होने जा रहे ‘नमस्ते ट्रम्प’ कार्यक्रम पर है। ‘हाउडी, मोदी’ के संयोजक जुगल मलानी ने यहां एक बयान में कहा कि हम जानते हैं कि नमस्ते ट्रम्प कार्यक्रम के आयोजक 24 फरवरी को होने वाले अपने सम्मेलन के लिए कितनी मेहनत कर रहे होंगे और हम कुछ दिनों में उनकी मेहनत का नतीजा देखने के लिए उत्साहित हैं। ‘हाउडी, मोदी’ का आयोजन करने वाले टेक्सास इंडिया फोरम यह देखकर खुश है कि राष्ट्रपति ट्रम्प की यात्रा के साथ इस कार्यक्रम ने अमरीका-भारत संबंधों को आगे बढ़ाया है।

डेढ़ घंटे तक करेंगे संबोधित
ट्रम्प और मोदी सोमवार को करीब डेढ़ घंटे तक इस स्टेडियम में लोगों को संबोधित करेंगे। गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष धनराज नटवानी के अनुसार पोडियम पर बैठने की व्यवस्था अंग्रेजी के ‘वाई’ अक्षर की शेप में की गई है। इसका हर पिलर 285 टन वजन वहन करने में सक्षम है।  दर्शकों के लिए 360 डिग्री में बैठने की व्यवस्था इस तरह की गई है कि किसी भी आपात जरूरत में इसे तत्काल और सुरक्षित तरीके से खाली कराया जा सके। इसमें 55 कमरों वाला क्लब हाउस है तथा ओलंपिक मानकों के आकार का स्वीमिंग पूल हैं।

ट्रंप के स्वागत पर सजेगा लुटियन, NDMC फूलों से सजाएगा राष्ट्रपति भवन के सभी द्वार व सड़कें

ट्रम्प और मेलानिया के साथ मोदी नहीं जाएंगे ताज देखने
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प सोमवार की शाम को आगरा में प्रेम के अमर प्रतीक ताजमहल को देखने जाएंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके साथ नहीं होंगे। अहमदाबाद में एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद ट्रंप ताजमहल के दीदार के लिए सोमवार को दोपहर बाद आगरा रवाना होंगे। ट्रंप के साथ मोदी के आगरा जाने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि ऐसी कोई योजना नहीं है। अमरीकी राष्ट्रपति और उनके परिवार का ताजमहल जाना उन्हें ऐतिहासिक धरोहर को अपनी सुविधा के अनुसार देखने का मौका देना है। इसलिए कोई आधिकारिक कार्यक्रम या भारत के वरिष्ठ पदाधिरकारियों की उपस्थिति का सवाल नहीं है।

जयपुर हवाई अड्डे पहुंचे अमरीकी अधिकारी
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा के मद्देनजर अमरीकी सुरक्षा एजेंसियों की जयपुर के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भी नजर है। एहतियातन यहां भी सुरक्षा कड़ी की गयी है और अमरीकी सेना का एक विशेष विमान रविवार को यहां सांगानेर हवाई अड्डे पर उतरा। हवाई अड्डे के निदेशक जेएस बलहारा ने बताया कि अमरीकी सेना का एक विशेष विमान गुरुवार सुबह यहां उतरा और लगभग एक घंटे बाद लौट गया। अमरीकी दूतावास के अधिकारियों ने हवाई अड्डे की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। ट्रंप 24 फरवरी से दो दिन की भारत यात्रा पर आ रहे हैं।

आया चौथा कार्गो विमान
अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की 24 फरवरी को शहर की यात्रा से पहले शनिवार को अहमदाबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर अमेरिकी वायसेना का एक और कार्गो विमान उतरा। सूत्रों ने बताया कि पिछले कुछ दिन में अमरीकी वायुसेना के चार सी-17 ग्लोबमास्टर कार्गो विमान सुरक्षा एवं संचार उपकरणों को लेकर यहां उतर चुके हैं। सूत्रों के अनुसार अमरीका का ‘मरीन वन’ हेलिकॉप्टर भी उस कार्गो का हिस्सा है जो कुछ दिन पहले उतरा था। गत सोमवार को पहला सी17 ग्लोबमास्टर उतरने के बाद पिछले कुछ दिन में इस तरह के दो और कार्गो विमान उतरे थे।

ट्रंप को महात्मा गांधी की आत्मकथा, चित्र और चरखा भेंट किये जाएंगे

अभिनंदन समिति का नाम अब स्वागत समिति हुआ 
विदेश मंत्रालय ने ट्रम्प के स्वागत की तैयारियों में जुटी जिस टीम को एक दिन पहले अभिनंदन समिति बताया था, मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने उसका नाम अब स्वागत समिति कर दिया है। मुख्यमंत्री के अनुसार अहमदाबाद की मेयर बीजल पटेल इस स्वागत समिति की प्रमुख होंगी। समिति में दो सांसद और कुछ पद्म पुरस्कार से सम्मानित लोग तथा शहर प्रमुख नागरिक शामिल होंगे। स्वागत संबंधी सारी तैयारियों की देखरेख इसी समिति का दायित्व होगा। वीरवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि ट्रम्प का स्वागत नागरिक अभिनंदन समिति करेगी। वहीं इस कार्यक्रम की आयोजक है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.