Wednesday, Sep 18, 2019
twitter sent notice to pakistani president for spreading rumor on article 370

अनुच्छेद 370 पर अफवाह फैलाने के लिए पाकिस्तानी राष्ट्रपति को ट्विटर ने भेजा नोटिस

  • Updated on 8/27/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने पर पाकिस्तान(Pakistan) लगातार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अफवाहें फैलाने पर लगा हुआ है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और राष्ट्रपति आरिफ अल्वी सोशल मीडिया में कई तरह के झूठे आरोप भारत पर लगा रहे हैं। इन अफवाहों को फैलाने के लिए ट्विटर ने बड़ा कदम
उठाया है। ट्विटर ने पाकिस्तानी राष्ट्रपति को अफवाह फैलाने पर नोटिस भेजा है।

तीन देशों की यात्रा से भारत लौटे पीएम मोदी, जाएंगे दिवंगत नेता अरुण जेटली के घर

नोटिस आने के बाद पाकिस्तान के मानवाधिकार मिनिस्टर शिरिन मजारी ने जवाब दिया और उन्होंने कहा अब सोशल मीडिया भी भेदभाव करने लगा है। उन्होंने साफ तौर ट्विटर कंपनी का नाम लेते हुए कहा कि यह कंपनी के द्वारा उठाया गया एक भेदभाव पूर्ण कदम है। शिरिन मजारी ने ट्विटर पर राष्ट्रपति को भेजे गए नोटिस का एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है।

#USOpenTennis: आज 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता फेडरर से होगा भारत के सुमित का मुकाबला

आपको बता दें कि राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने भारत पर आरोप लगाते हुए ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि कश्मीर के हालात बहुत बुरे हैं इसलिए इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और भारत की असलियत को सबके सामने लाएं। आरिफ अल्वी का यह वीडियो 1 मिनट 30 सेकेण्ड का है। 

गुजरात में बन चुका है विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, पीछे छूटा मेलबोर्न

यह पहला मौका नहीं है जब राष्ट्रपति आरिफ अल्वी अपने बयान के लिए समस्या में घिरे हैं। इससे पहले भी 5 अगस्त के भारत सरकार के निर्णय के बाद भी उन्होंने काफी विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि भारत के इस कदम के बाद पाकिस्तान के पास सिर्फ जिहाद का ही रास्ता बचता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.