Sunday, Jan 23, 2022
-->
ugc-asks-deemed-to-be-universities-not-to-call-themselves-university-prsgnt

UGC का आदेश देश के 127 संस्थान अपने नाम में ना जोड़े यूनिवर्सिटी, हो सकती है कार्यवाई

  • Updated on 5/28/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने देश की उन इंस्टीट्यूट्स पर नजर रखनी शुरू कर दी है जो अपने नाम में यूनिवर्सिटी शब्द का इस्तेमाल कर रहे हैं, हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही इससे जुड़े निर्देश जारी किए थे।

इस बारे में अब यूजीसी ने आदेश जारी किया है। इसके अंतर्गत देश की 127 डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटीज को निर्देश दिए गये हैं वो अपने नाम में किसी भी तरह से यूनिवर्सिटी शब्द का इस्तेमाल न करें। इस बारे में आयोग ने ऐसा करने वाले 127 संस्थानों की लिस्ट बना कर जारी भी की है।  

DU के 85 प्रतिशत छात्र ओपन बुक एग्जाम के खिलाफ, जानें क्या है कारण

हो सकती है कार्रवाई
इस बारे में यूजीसी ने बकायदा लिस्ट जारी कर आदेश दिया है कि अगर ये 127 संस्थान नियमों का पालन नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ कार्यवाई की जा सकती है। साथ ही यह भी कहा गया है ये संस्थान अपने विज्ञापनों में, अपने पते से, ई-मेल से, वेबसाइट पते से, लेटरहेड से और होडिंग्स समेत जहां भी संस्थान ने यूनिवर्सिटी शब्द का इस्तेमाल किया है उसे वहां से हटाए। अगर निर्देश जारी करने पर भी नहीं माने जाते हैं तो कार्यवाई की जाएगी।

CBSE के 10वीं के छात्रों को फेल होने से बचाएगा ये विषय, नहीं देनी होगी कंपार्टमेंट परीक्षा

पहले सुप्रीम कोर्ट ने दिए थे निर्देश
वहीँ, यूजीसी ने पत्र जारी कर स्पष्ट रूप से कहा है कि विश्वविद्यालय शब्द का उपयोग संस्थान नहीं करेंगें। ऐसे संस्थान जो वो कॉरपोरेट बॉडी है या नहीं, सेंट्रल एक्ट, प्रोविंशियल एक्ट और स्टेट एक्ट के आधार पर अपने नाम में किसी भी तरह से विश्विद्यालय शब्द नहीं जोड़ सकता है।

इस पत्र में साफ लिखा है कि देखने में आ रहा है कि इस बारे में दिए सुप्रीम कोर्ट के आर्डर का भी पालन नहीं किया गया है और अब भी अगर कोई संस्थान आदेशों का पालन नहीं करेगा तो निश्चित ही कार्यवाई होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.