Monday, Aug 15, 2022
-->
uk pm boris johnson ready to resign decision taken after ministers revolt

जॉनसन ने इस्तीफे की घोषणा की, नए नेता के चुनाव तक प्रधानमंत्री बने रहेंगे

  • Updated on 7/7/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह कंजर्वेटिव पार्टी का नेता पद छोडऩे की घोषणा करते हुए उदास हैं। उनकी इस घोषणा के बाद पार्टी के नए नेता का चुनाव किया जाएगा जो देश के नए प्रधानमंत्री बनेंगे। जॉनसन (58) ने कहा कि जब तक पार्टी का नया नेता चुनने की प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती, वह 10 डाउनिंग स्ट्रीट के प्रभारी बने रहेंगे। कंजर्वेटिव पार्टी का सम्मेलन अक्टूबर में होना है और उस समय तक नए नेता के चुनाव की प्रक्रिया पूरी होगी।      जॉनसन ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री के सरकारी आवास के बाहर इस्तीफे की घोषणा करते हुए कहा, 'मैं आपको बताना चाहता हूं कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पद को छोड़ कर मैं कितना उदास हूं।' 

उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी पार्टी के सदस्यों ने अन्य नेताओं का अनुसरण करते हुए व्यवहार किया। उन्होंने कहा, 'यह स्पष्ट रूप से संसदीय कंजर्वेटिव पार्टी की इच्छा है कि पार्टी का एक नया नेता हो और इसलिए एक नया प्रधानमंत्री होगा।’’ जॉनसन ने कहा कि वह पार्टी सांसदों के इस विचार से सहमत हैं कि नए नेता को चुनने की प्रक्रिया अभी शुरू होनी चाहिए और अगले सप्ताह इसके लिए समय सारिणी की घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘... मैंने काम करने के लिए आज एक कैबिनेट नियुक्त किया है क्योंकि अगले नेता के कार्यभार संभालने तक मैं काम करता रहूंगा।’’ 

निवर्तमान प्रधानमंत्री ने दोहराया कि उन्हें 2019 के आम चुनाव में 'अविश्वसनीय जनादेश' मिला था और यही कारण है कि पिछले कुछ दिनों में उन्होंने उस जनादेश का सम्मान करने के लिए व्यक्तिगत रूप से इतनी मेहनत की। उन्होंने कहा, 'मैंने महसूस किया कि यह मेरा काम, मेरा कर्तव्य, मेरा दायित्व है कि 2019 में हमने जो वादा किया था, उसे पूरा करते रहें।’’ पिछले कुछ दिनों के नाटकीय घटनाक्रम का जिक्र करते हुए जॉनसन ने कहा कि उन्होंने अपने सहयोगियों को मनाने की कोशिश की थी कि इस तरह के 'विशाल जनादेश' के साथ सरकारों को बदलना 'सनक' होगा। 

उन्होंने कहा, 'मुझे खेद है कि मैं उन तर्कों में सफल नहीं रहा...।’’ अगले प्रधानमंत्री की दौड़ में इराकी मूल के मंत्री नादिम काहावी (55) को सबसे आगे माना जा रहा है। उन्होंने एक आलोचनात्मक पत्र लिख कर जॉनसन के प्राधिकार पर सवाल उठाया और उनसे पद छोडऩे की मांग की। मंत्री ने कहा कि बोरिस जॉनसन के लिए पद छोडऩे का समय आ गया है। उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री, आप अपने दिल में जानते हैं कि क्या करना उचित है, और अब आप पद छोड़ दें।’’ 

comments

.
.
.
.
.