समुद्री जलस्तर में असमान वृद्धि की वजह जलवायु परिवर्तन : अध्ययन

  • Updated on 12/4/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बीते 25 वर्षों में समुद्र के जलस्तर में असमान वृद्धि की वजह केवल प्राकृतिक परिवर्तनशीलता नहीं बल्कि कुछ हद तक इंसानी गतिविधियों की वजह से हुआ जलवायु परिवर्तन है।  यह जानकारी एक अध्ययन से सामने आयी हे।

किसानों की फसल नुकसान का आकलन करेगा केंद्रीय प्रतिनिधिमंडल

इस अध्ययन के निष्कर्ष ‘‘प्रोसिडिंग्स ऑफ दि नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेस’’ नामक पत्रिका में प्रकाशित हुए हैं। इनके मुताबिक विश्व के वे हिस्से जहां समुद्री जलस्तर में औसत से कहीं अधिक वृद्धि हुई है वहां यह चलन जारी रह सकता है और इसकी वजह जलवायु का गर्म होना है।

मुंह का कैंसर होने की संभावना का पता लगाने के लिए भारत ने बनाया उपकरण 

अमेरिका के ‘‘नेशनल सेंटर फॉर एटमॉस्फेरिक रिसर्च’’ के जॉन फसुलो ने कहा, ‘‘ यह जानने के बाद कि इन क्षेत्रीय पैटर्न के पीछे एक वजह जलवायु परिवर्तन भी है, हम यह भरोसे से कह सकते हैं कि ये पैटर्न जारी रहेंगे और अगर भविष्य में जलवायु परिवर्तन लगातार जारी रहता है तो ये पैटर्न और गहरा भी सकते हैं।’’ शोधकर्ताओं के मुताबिक दुनिया के कुछ हिस्सों में स्थानीय समुद्री जलस्तर में वृद्धि औसत के मुकाबले लगभग दोगुनी है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.