Wednesday, Oct 27, 2021
-->
unhappy parents knocked on DM''s door

गरीब छात्रा को एडमिशन देने से कतरा रहा निजी स्कूल, दुखी अभिभावकों ने खटखटाया डीएम का दरवाजा

  • Updated on 9/17/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। निजी स्कूल द्वारा गरीब छात्रा को एडमिशन ना दिए जाने के आरोप लगाते हुए शुक्रवार को गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन का एक प्रतिनिधिमंडल जिला मुख्यालय पहुंचा। जहां उन्होंने जिलाधिकारी के नाम एक शिकायती पत्र अपर नगर मजिस्ट्रेट खालिज अंजुम को सौंपा। एसोसिएशन के पदाधिकारियों का आरोप है कि स्कूल शासनादेशों के बाद भी गरीब छात्रा को दाखिला नहीं दिया। जिससे छात्रा का भविष्य अधर में है। उन्होंने स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। 

एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि नि:शुल्क व अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार 2009 की धारा 12 (1)ग के तहत छात्रा आयत ताजीम पुत्री मोहम्मद ताजीम का दाखिला गौतम पब्लिक स्कूल, प्रताप विहार, विजय नगर में कक्षा-1 में करने का आदेश जारी किया गया था। लेकिन आदेश के दो महीने बीत जाने के बाद भी अभिभावक के बार-बार स्कूल के चक्कर लगाने के बाद भी छात्रा का एडमिशन स्कूल द्वारा नही लिया गया है। अभी कुछ दिन पहले ऐसा ही मामला शहर के नामी स्कूल का भी आया था। जिसने शासनादेश का उल्लंघन कर आरटीई के तहत एडमिशन देने से साफ इंकार कर दिया था और आज तक शिक्षा अधिकारियों द्वारा कोई कार्यवाई नही की गई है। 

जिले के ऐसे अनेको अभिभावक हैं। जिनके बच्चों का एडमिशन सूची में नाम होने के बाद भी नही लिया जा रहा है। एसोसिएशन ने अपर नगर मजिस्ट्रेट खालिद अंजुम से निवेदन किया है कि छात्रा आयत ताजीम एवम जिले के अन्य चयनित बच्चों का एडमिशन सुनिश्चित कराया जाये।  वहीं शासनादेश का उल्लंघन करने पर स्कूल पर सख्त से सख्त कार्यवाई की जाये। अपर नगर मजिस्ट्रेट खालिद अंजुम ने जीपीए को  आश्वस्त किया कि आरटीई के तहत चयनित सभी बच्चों का एड्मिसन हर हालत में कराया जाएगा तथा शासनादेश का उल्लंघन करने वाले स्कूलो पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर अनिल सिंह , कौशलेंद्र सिंह, जसवीर रावत, कौशल ठाकुर, महेंद्र सिंह, मोहम्मद ताजीम, विवेक त्यागी, नरेश कसोना आदि मौजूद रहे ।
 

comments

.
.
.
.
.