Sunday, May 28, 2023
-->
Union Health Ministry cancels the purchase of test kits of two Chinese companies sohsnt

Coronavirus: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने की दो चीनी कंपनियों की टेस्ट किट की खरीद रद्द

  • Updated on 4/27/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। खराब गुणवत्ता वाली चीन की दो कंपनियों की कोरोना रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट का इस्तेमाल करने पर भारतीय आर्युविज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से रोक लगाने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगे की होने वाली खरीद का ऑर्डर रद्द करने जा रही है। साथ ही खराब किटों को वापस कंपनियों को भेजने को कहा है।

Lockdown 2.0: दिल्ली पुलिस ने लोगों को जागरूक करने के लिए निकाला नया तरीका

शिकायतों के बाद की गई टेस्ट किट की जांच 
किट की गुणवत्ता के बाद उनकी कीमतों को लेकर उठे सवालों पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने सफाई दी कि राज्यों से मिली शिकायतों के बाद टेस्ट किट की जांच की गई। इसमें बॉयोमेडिमिक्स और वोन्डफो कंपनी की किट खराब गुणवत्ता की पाई गईं। इन किट्स को अब वापस कंपनियों को भेजा जा रहा है।

चीन ने कोरोना के लिए अमेरिका पर किया पलटवार, बोला-अमेरिका से हुई गलती, करे स्वीकार

ऑर्डर किया गया रद्द
मंत्रालय ने कहा कि जब ऑर्डर ही रद्द कर दिया गया और खरीद हो ही नहीं रही है तो इसमे वित्तीय नुकसान जैसी कोई बात ही नहीं बनती। मूल्य को लेकर मंत्रालय ने कहा कि जिस वक्त इन किट की खरीद के ऑर्डर दिए गए थे, उस वक्त किट बनाने वालों पर दुनियाभर से मांग आ रही थी।

केंद्र सरकार ने किया बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, अपने चहेतों को दिया ये विभाग

किट की सबसे न्यूनतम दर 600
कोरोना जैसी महामारी से लड़ने का दबाव सभी पर था। ऐसे में फ्री ऑन बोर्ड (एफओबी) आधार पर कोटेशन मंगवाए गए। जो कोटेशन मिले, उसमें 1204, 1200, 844 और 600 रुपये प्रति किट की दरें आईं। इसमें सबसे न्यूनतम दर 600 की मिली थी, जिस पर खरीद का ऑर्डर दिया गया था।

comments

.
.
.
.
.