Sunday, Jul 12, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 12

Last Updated: Sun Jul 12 2020 12:20 PM

corona virus

Total Cases

850,844

Recovered

536,321

Deaths

22,696

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA246,600
  • TAMIL NADU134,226
  • NEW DELHI110,921
  • GUJARAT41,027
  • KARNATAKA36,216
  • UTTAR PRADESH35,092
  • TELANGANA33,402
  • WEST BENGAL28,453
  • ANDHRA PRADESH27,235
  • RAJASTHAN23,901
  • HARYANA20,582
  • MADHYA PRADESH17,201
  • ASSAM16,072
  • BIHAR15,039
  • ODISHA13,121
  • JAMMU & KASHMIR10,156
  • PUNJAB7,587
  • KERALA7,439
  • CHHATTISGARH3,897
  • JHARKHAND3,663
  • UTTARAKHAND3,417
  • GOA2,368
  • TRIPURA1,962
  • MANIPUR1,593
  • PUDUCHERRY1,418
  • HIMACHAL PRADESH1,182
  • LADAKH1,077
  • NAGALAND771
  • CHANDIGARH549
  • DADRA AND NAGAR HAVELI482
  • ARUNACHAL PRADESH341
  • MEGHALAYA262
  • MIZORAM228
  • DAMAN AND DIU207
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS163
  • SIKKIM160
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
union health ministry will release new list of red orange green zone sohsnt

कोरोना संकट के चलते दो दिन के भीतर जारी होगी रेड, ऑरेंज, ग्रीन जोन की नई लिस्ट

  • Updated on 5/8/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने की प्रक्रिया के तहत सरकार ने देश के जिलों को तीन जोन में बांटा है- रेड, ऑरेंज और ग्रीन। इसकी पिछली सूची 30 अप्रैल को जारी की गई थी। इन जिलों की स्थिति पर अध्‍ययन जारी है और राज्य सरकारों के साथ चर्चा के बाद केंद्रीय स्वास्थ्‍य मंत्रालय एक या दो दिन के भीतर नई लिस्‍ट जारी करेगा। 

मुंबई में बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुए बीएमसी के कमिश्नर को हटाया, इकबाल चहल बने नए कमिश्नर

स्वास्थ्‍य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने दी जानकारी
यह जानकारी स्वास्थ्‍य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने शुक्रवार को कोविड-19 की स्थिति पर प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने कहा, 'चूंकि हम डबलिंग रेट का आंकलन करते वक्त एक सप्‍ताह का डाटा लेते हैं, तो बीते एक सप्ताह में डबलिंग रेट में गिरावट आयी है, जोकि चिंताजनक है। कंटेनमेंट जोन में अब पहले से ज्यादा सख्‍ती की जा रही है।' उन्‍होंने कहा कि देश के लोगों को वायरस के साथ रहना सीखना होगा। यह सरकार और जनता दोनों के लिए बहुत बड़ी चुनौती है। कंटेनमेंट ज़ोन में तो सख्‍ती की जाती है, लेकिन उसके अलावा भी बाकी जगहों पर लोगों को अपने व्‍यवहार में परिवर्तन लाने की जरूरत है। 

CBSE परीक्षाओं की आ गई डेट, एक से 15 जुलाई के बीच होंगे 10वीं-12वीं के बचे एग्जाम

पीक आया तो कितने मामले बढ़ सकते हैं?
मामलों के पीक पर आने के सवाल के जवाब में लव अग्रवाल ने कहा, 'अगर पीक जून जुलाई में आता है तब कितने मामले प्रति दिन आयेंगे यह बताना अभी मुश्किल है। क्योंकि सरकार को आंकलन की रिपोर्ट देने वाली अलग-अलग एजेंसियों के आंकड़ों में बहुत ज्यादा अंतर है। एक एजेंसी कहती है कि कुछ हजार आंकड़े ही बढ़ेंगे, तो एक कहती है कि सख्‍या करोड़ों में जाएगी। लिहाजा हम वर्तमान स्थिति के आधार पर ही निर्णय लेते हैं। और उसी के आधार पर आगे की तैयारियां भी की जाती हैं। हर रोज हम जिला स्तर पर अध्‍ययन करके जिला प्रशासन के साथ आगे की रणनीति तय करते हैं किस कंटेनमेंट जोन में क्या करना है।'

24 घंटे में 3990 नए केस और मरने वालों का आंकड़ा 1900 के करीब: स्वास्थ्य मंत्रालय

राज्‍यों में पिछले एक सप्‍ताह में तेजी से मामलों में वृद्धि
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि कुछ राज्‍यों में पिछले एक सप्‍ताह में तेजी से मामलों में वृद्धि हुई है। इनमें महाराष्‍ट्र, गुजरात और दिल्ली प्रमुख राज्य हैं। इनके अलावा तमिलनाडु, मध्‍य प्रदेश राजस्‍थान हैं, जहां राज्य सरकारों के साथ मिल कर युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं। अगर हम सभी दिये गये दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे, तो हो सकता है हमारा ग्राफ पीक पर जाने के बजाए यहीं पर थम जाए और धीरे-धीरे मामले कम होते जाएं। सरकार का पूरा प्रयास है कि हम पीक तक नहीं पहुंचें। 

प्रवासी मजदूरों के लिये चली 222 स्पेशल ट्रेन, 2.5 लाख से ज्यादा लोग पहुंचे अपने राज्य

संक्रमण से अब तक 1886 लोगों की मौत
गौरतलब है कि देश में अब तक कोविड'19 के 56342 मामले आ चुके हैं, जिनमें 37916 एक्टिव मामले हैं। 16539 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं, जबकि 1886 लोगों की मौत हो चुकी है। 1 मामला माइग्रेटेड है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.