Sunday, Apr 18, 2021
-->
unnao case bsp chief mayawati demands high level inquiry pragnt

उन्नाव केस: योगी सरकार पर मायावती ने उठाए सवाल, कहा- मामले की हो उच्चस्तरीय जांच

  • Updated on 2/18/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रद्रेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले में दो लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने और एक लड़की के बेसुध पाए जाने की घटना से पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। इस घटना को लेकर बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती (Mayawati) ने यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) पर निशाना साधा है।

उन्नाव: प्रियंका गांधी बोली, दिल दहलाने वाली है घटना, तीसरी लड़की को इलाज के लिए पहुंचाया जाए दिल्ली

मायावती ने की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग
बसपा सुप्रीमो ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, 'यूपी के उन्नाव जिले में तीन दलित बहनों में से दो की खेत में कल हुई रहस्मय मौत व एक की हालत नाजुक होने की घटना अति-गंभीर व अति-दुःखद। पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना।' उन्होंने कहा, 'बीएसपी ने सरकार से घटना की उच्च-स्तरीय जांच कराने व दोषियों को सख्त सजा दिलाने की मांग की है।'

'मेट्रो मैन' ई श्रीधरन की BJP में शामिल होने की अटकले तेज, 21 फरवरी को ले सकते हैं सदस्यता

दलित समुदाय से आती है तीनों लड़कियां
गौरतलब है कि उन्नाव जिले के असोहा इलाके के बबुरहा गांव के बाहर बुधवार को दलित समुदाय की तीन लड़कियां बेसुध मिलीं। अस्पताल ले जाने पर उनमें से दो को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने बताया कि बबुरहा गांव में एक ही परिवार की 15,14 और 16 साल की तीन लड़कियां अपराह्न करीब तीन बजे जानवरों के लिए चारा लेने घर से निकली थीं। जिन लड़कियों  को उठाया गया था। वह तीनों लड़कियां एक ही दुपट्टे से बंधी मिली थी। जिनमें से 2 की मौत हो चुकी है और एक को कानपुर में इलाज के लिए रेफर किया गया है। बता दें तीनों लड़कियां दिन में खेत में चारा लेने गई थी।   

तीनों एक ही गांव की रहने वाली हैं और दलित समुदाय से आती है। बुधवार को तीनों एक साथ खेत से चारा लेने गई थी। जिसके बाद से ही वह गायब थी। शाम को जब उनके पिता उन्हें ढूढ़ने गए तो उन्हें तीनों अचेत अवस्था में एक पेड़ से दुपट्टे से बधे मिल थे। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज की है। 

PM Kisan scheme: पीएम किसान योजना के 33 लाख फर्जी लाभार्थियों पर होगी कार्रवाई

पुलिस ने परिवार को किया नजरबंद
सूचना मिली है कि पुलिस ने अभी तक पीड़ित परिवार को नजरबंद किया हुआ है। पुलिस ने परिवार को किसी से बात करने की इजाजत नहीं दी है। मीडिया को भी परिवार से दूर रखा जा रहा है। पुलिस ने इसके अलावा घटना स्थल को भी कब्जे में ले लिया है। पुलिस अब सिर्फ पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है ताकि मामले को आगे बढ़ाया जा सके। पोस्टमार्टम के लिए चार डॉक्टरों का एक पैनल भी बनाया गया है। जो इसकी जांच करेगा।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.