Sunday, Feb 05, 2023
-->
up education minister satish dwivedi open challenge to delhi cm to come up schools pragnt

दिल्‍ली CM को यूपी के शिक्षा मंत्री की खुली चुनौती, कहा- हमारे स्‍कूलों को देखें, खुल जाएंगी आंखें

  • Updated on 12/16/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। साल 2020 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections) के लिए सभी राजनीतिक पार्टियां अभी से जुट गई है। मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 2022 का विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। केजरीवाल के ऐलान के बाद ही यूपी में सियासी सरगर्मी तेजी हो गई है। अब इसे लेकर यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी (Satish Dwivedi) ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) पर हमला किया है।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी- अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल- सिसोदिया को दी चुनौती
केजरीवाल और सिसोदिया को सीधे चुनौती देते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा, 'मैं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल जी और उनके डिप्टी मनीष सिसोदिया जी को उत्तर प्रदेश के स्कूलों का दौरा करने के लिए आमंत्रित करता हूं। इससे उनकी आंखें खुल जाएंगी। वे इस मुद्दे के साथ यूपी की राजनीति में प्रवेश करना चाहते हैं।'

जानें कोरोना की तीसरी लहर समाप्त होने के बारे में क्या बोले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री

स्कूलों को लेकर बोला हमला
सतीश द्विवेदी ने कहा, 'दिल्ली में कक्षा 1-12 के लिए 1024 सरकारी स्कूल हैं। यूपी में सबसे छोटे जिले में भी कक्षा 1-8 के लिए कम से कम 2,000 स्कूल हैं। मुझे केवल उन लोगों की समझ पर तरस आता है जो 1.59 लाख स्कूलों वाले यूपी की तुलना 1024 स्कूलों वाली दिल्‍ली से कर रहे हैं।

UP: AAP के चुनाव लड़ने पर BJP प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- 'किसका नाम ले लिया, मूड ऑफ हो गया'

दिल्‍ली के एक ही सरकारी स्‍कूल में स्विमिंग पूल- शिक्षा मंत्री
उन्होंने ये भी कहा, 'दिल्‍ली के केवल कुछ ही स्कूलों में स्मार्ट क्लास हैं, वह भी टाटा, अडानी और अंबाई समूहों की मदद से। केवल एक स्कूल में स्विमिंग पूल है। लेकिन दिल्ली सरकार विज्ञापनों और शो पर ऐसे पैसा खर्च करती है जैसे कि सभी स्कूलों में स्विमिंग पूल हैं।'

UP: AAP के चुनाव लड़ने पर BJP प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- 'किसका नाम ले लिया, मूड ऑफ हो गया'

UP विधानसभा का चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी- अरविंद केजरीवाल
गौरतलब है कि दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को कहा कि आम आदमी पार्टी 2022 में होने वाला उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश की राजनीतिक पार्टियों पर निशाना साधते हुए 'उन पर लोगों की पीठ में छुरा घोंपने' का आरोप लगाया।

आम आदमी पार्टी के ऐलान से योगी सरकार में मची खलबली, केजरीवाल को लिया आड़े हाथ

गंदी राजनीति, भ्रष्ट नेताओं के चलते विकास रह गया पीछे
डिजिटल तरीके से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश का विकास वहां की 'गंदी राजनीति' और 'भ्रष्ट नेताओं' की वजह से रुक गया है। उन्होंने सवाल किया, 'उत्तर प्रदेश के लोगों को स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए दिल्ली का रुख क्यों करना पड़ता है? कोई परिवार कानपुर में रहता है, उन्हें अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए दिल्ली भेजना पड़ता है। गोरखपुर में रहने वाले व्यक्ति को अपने अभिभावकों को अच्छा इलाज दिलाने के लिए दिल्ली आना पड़ता है।'

किसान आंदोलन के बीच राहुल गांधी ने सरदार पटेल को किया याद, निशाने पर मोदी सरकार

मानदार सोच पैदा करेगी AAP
केजरीवाल ने कहा, 'उत्तर प्रदेश के लोगों ने हर पार्टी को आजमा लिया और उन्हें मौका भी दिया लेकिन इन दलों ने लोगों की पीठ में चाकू घोंपने का काम किया।' उन्होंने कहा कि 'मोहल्ला क्लीनिक', मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य केन्द्रों की सुविधा उत्तर प्रदेश में भी मुहैया कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि आप ईमानदार सोच पैदा करेगी और यह साबित करेगी कि शासन सीमित संसाधनों का मोहताज नहीं है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी।

दिल्ली: स्कूलों में बच्चों को सुनाई जाएंगी बचपन की कहानियां, डिप्टी CM ने लॉन्च किया वेब पोर्टल

UP के लोगों से की ये अपील
केजरीवाल ने कहा, 'मैं आप सबसे आप को एक बार मौका देने की अपील करता हूं और आप बाकी सब दलों को भूल जाएंगे, जैसा दिल्ली में हुआ।' केजरीवाल ने कहा, 'क्या देश का सबसे बड़ा राज्य देश में सबसे विकसित राज्य में नहीं बदल सकता है? अगर दिल्ली के संगम विहार में मोहल्ला क्लीनिक हो सकता है तो उत्तर प्रदेश के गोमती नगर इलाके में क्यों नहीं हो सकता? अगर दिल्ली में सबसे अच्छा अस्पताल हो सकता है तो उत्तर प्रदेश में सरकारी अस्पतालों की स्थिति इतनी बदहाल क्यों है?'

केजरीवाल सरकार ने बुलाया एक दिवसीय विधानसभा सत्र, MCD में अनियमितता पर चर्चा

सरकारी स्कूलों की हालत इतनी खराब क्यों?- केजरीवाल
उन्होंने कहा, 'दिल्ली के लोगों को 24 घंटे पानी की आपूर्ति हो सकती है तो उत्तर प्रदेश को क्यों नहीं? वहां पर बिजली क्यों गुल होती है? उत्तर प्रदेश के लोगों को बिजली के ज्यादा बिल क्यों देने पड़ते हैं? अगर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सकती है तो उत्तर प्रदेश में क्यों नहीं। वहां पर सरकारी स्कूलों की हालत इतनी खराब क्यों है।' आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि लोगों के समर्थन के कारण पार्टी ने दिल्ली में तीन बार सरकार बनायी और पंजाब में मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.