Friday, May 27, 2022
-->
up-elections-bjp-mp-rita-bahuguna-intensifies-campaign-to-get-ticket-for-her-son-rkdsnt

यूपी चुनाव : BJP सांसद रीता बहुगुणा ने तेज की अपने बेटे को टिकट दिलाने की मुहिम

  • Updated on 1/18/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने मंगलवार को कहा कि यदि उनका पुत्र आसन्न उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए टिकट मांग रहा है तो यह उसका अधिकार है। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह अपने बेटे को टिकट दिलाने का प्रयास नहीं कर रही हैं। इलाहाबाद से सांसद जोशी ने आज यहां उत्तर प्रदेश के लिए भाजपा के चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान से मुलाकात की। हालांकि, उन्होंने इस मुलाकात को पार्टी से संबंधित मुद्दों पर ‘‘शिष्टाचार के नाते भेंट’’ करार दिया। 

पीएम केयर्स फंड: प्रधानमंत्री के नाम, तस्वीर, राष्ट्रीय ध्वज के इस्तेमाल पर कोई रोक नहीं: PMO 

 

ऐसी चर्चा है कि जोशी के पुत्र मयंक जोशी लखनऊ कैंट विधानसभा सीट पर टिकट की दावेदारी कर रहे हैं और इसके लिए पूरी कोशिश भी कर रहे हैं। इस सीट पर रीता बहुगुणा जोशी ने 2017 के विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी। बाद में 2019 के लोकसभा चुनाव में इलाहाबाद से जीत दर्ज करने के बाद उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। 

आईएएस (कैडर) नियमों में बदलाव पर ममता ने उठाए सवाल, PM मोदी को लिखा पत्र

भाजपा के सुरेश चंद्र तिवारी ने 2019 के उपचुनाव में लखनऊ कैंट से जीत दर्ज की थी। उन्होंने समाजवादी पार्टी की अपर्णा यादव को पराजित किया था। अपर्णा यादव सपा के वरिष्ठ नेता मुलामय सिंह यादव की पुत्रवधू हैं। प्रधान से मुलाकात के बाद जोशी ने कहा कि उनका पुत्र टिकट की मांग कर रहा है, वह अलग बात है लेकिन उनकी प्रधान से मुलाकात चुनाव से जुड़े कुछ स्थानीय मुद्दों को लेकर थी। 

राहुल गांधी ने ‘टेलीप्रॉम्पटर’ प्रकरण को लेकर पीएम मोदी पर किया तंज, BJP बचाव में उतरी

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यदि वह पार्टी से टिकट की मांग कर रहा है तो यह उसका अधिकार है। आज मैंने इस बारे में बात नहीं की। मैं पहले ही कह चुकी हूं कि मेरा 2024 का लोकसभा चुनाव लडऩे का कोई इरादा नहीं है। वास्तव में मैं अब कोई चुनाव ही लडऩा नहीं चाहती।’’ 

BJP से निष्कासित हरक सिंह बोले- हरीश रावत मेरे बड़े भाई, माफी मांगने को तैयार

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे बेटे को टिकट मिले, इसके लिए मैं प्रयास नहीं कर रही। पार्टी के पास उनका प्रोफाइल मौजूद है और वह उसके अनुरूप ही कोई फैसला लेगी।’’ लखनऊ कैंट लखनऊ जिले की नौ विधानसभा सीटों में एक है। लखनऊ कैंट सीट पर चौथे चरण में 23 फरवरी को मतदान होना है। मतगणना 10 मार्च को होगी।     

भाजपा ने भोजीपुरा से बहोरन मौर्य को बनाया उम्मीदवार 
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए दो और उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी। पार्टी ने बरेली जिले की बहेड़ी से दो बार के विधायक और राजस्व मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार और इसी जिले की भोजीपुरा से विधायक बहोरन लाल मौर्य को फिर से टिकट दिया है। भाजपा की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति ने दोनों नेताओं के नाम पर मुहर लगाई है। इसके साथ ही पार्टी अबतक कुल 109 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है।

कोरोना काल में अरबपतियों की बल्ले-बल्ले, कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

 
ज्ञात हो कि भाजपा ने इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ ही कुल 107 उम्मीदवारों के नामों का एलान किया था। पार्टी ने गोरखपुर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को और सिराथू सीट से उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को चुनाव मैदान में उतारने की घोषणा की थी। पार्टी ने पहली सूची में जिन 107 सीटों के लिये उम्मीदवारों की घोषणा की थी, उनमें से 105 सीटों पर पहले और दूसरे चरण में मतदान होना है। गोरखपुर में छठे चरण के तहत तीन मार्च को जबकि सिराथू में पांचवें चरण के तहत 27 फरवरी को मतदान होना है। 

पंजाब कांग्रेस में राणा गुरजीत को निकालने की मांग, सोनिया गांधी को पत्र

पार्टी की ओर से जारी पहली सूची में 20 विधायकों के टिकट भी काटे गए थे। उत्तर प्रदेश की 403 सदस्यीय विधानसभा के लिए सात चरणों में मतदान होना है।  गौरतलब है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को अकेले 312 और उसके सहयोगियों को 13 सीटों पर जीत मिली थी। सत्ता गंवाकर प्रमुख विपक्षी दल बनी समाजवादी पार्टी सिर्फ 47 सीटों पर जीत हासिल कर सकी थी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.