Thursday, Jan 27, 2022
-->
up elections kejriwal to attend aap employment guarantee rally in lucknow rkdsnt

यूपी चुनाव : लखनऊ में AAP की ‘रोजगार गारंटी रैली’ में शामिल होंगे केजरीवाल

  • Updated on 11/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) आगामी 28 नवंबर को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में‘रोजगार गारंटी रैली’आयोजित करेगी। इसमें पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शिरकत करेंगे। पार्टी के राज्यसभा सदस्य और उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने बृहस्पतिवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के शासनकाल में बढ़ती बेरोजगारी और रोजगार मांगने पर किए जा रहे उत्पीडऩ के मुद्दों पर पार्टी आगामी 28 नवंबर को लखनऊ में रोजगार गारंटी रैली आयोजित करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी प्रमुख केजरीवाल इसे संबोधित करेंगे। 

खुर्शीद की राय अलग गुलाम नबी कहा- हिदुत्व की तुलना ISIS करना गलत और अतिशयोक्ति है

उन्होंने आरोप लगाया कि रोजगार मांगने पर युवाओं को लाठियां मिल रही हैं। सुहागिन शिक्षामित्र बहनों को नौकरी नहीं दिए जाने के विरोधस्वरूप मुंडन कराना पड़ रहा है। भाजपा राज में बेरोजगारी की समस्या और गहरा गई है। उन्होंने कहा कि रैली में केजरीवाल यह बताएंगे कि उत्तर प्रदेश में आप की सरकार बनने पर वह युवाओं को बेरोजगारी की समस्या से उबारने के लिए क्या काम करेगी। 

एयर इंडिया बिकने के बाद सिंधिया अब विमानन कंपनियों के किराए बढ़ाने के पक्ष में

सिंह ने कहा कि प्रदेश में केजरीवाल की पहली गारंटी 300 यूनिट मुफ्त बिजली प्रदेश में अभियान के रूप में चल रहा है। इसे आम आदमी का भरपूर साथ मिल रहा है। लोग खुद आकर कार्यकर्ताओं से गारंटी फार्म मांग कर भर रहे हैं और गारंटी कार्ड ले रहे हैं। इसी तरह अब केजरीवाल रोजगार की गारंटी देने आ रहे हैं। 

ना तो चीन के अवैध कब्जे को कभी स्वीकार किया है, ना ही अनुचित चीनी दावों को: विदेश मंत्रालय

उन्होंने आरोप लगाया कि योगी आदित्यनाथ के राज में युवाओं का उत्पीडऩ चरम पर पहुंच गया है। शिक्षक भर्ती, पुलिस भर्ती आदि के अभ्र्यिथयों सहित शिक्षामित्र, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और अनुदेशक सभी परेशान हैं। शिक्षक भर्ती में आवेदन करने वाली एक बहन 90 दिन से पानी की टंकी पर प्रदर्शन कर रही है, लेकिन योगी सरकार पसीज नहीं रही। कासगंज में पुलिस हिरासत में एक युवक की मौत पर सवाल उठाते हुए संजय सिंह ने कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेरा। 

AAP ने कंगना के खिलाफ मामला दर्ज करने आग्रह किया
आम आदमी पार्टी (आप) ने बृहस्पतिवार को मुंबई पुलिस को एक शिकायत देकर आग्रह किया कि फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ उनकी उस ‘राजद्रोही’ टिप्पणी के लिए मामला दर्ज किया जाए जिसमें उन्होंने कथित रूप से कहा है कि भारत को आजादी 2014 में मिली थी जबकि 1947 में जो मिला था वो ‘भीख’ थी। आप की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य प्रीति शर्मा मेनन ने अभिनेत्री की टिप्पणी को ‘ राजद्रोही और भड़काऊ’ बताया है। मेनन ने एक ट्वीट में कहा कि आप रनौत के अपमानजनक बयान की कड़ी ङ्क्षनदा करती है- जिसमें दावा किया गया है कि 1947 की भारत की स्वतंत्रता भीख थी, न कि वास्तविक स्वतंत्रता। 

कांग्रेस नेता सुखपाल सिंह खैरा को ईडी ने धन शोधन मामले में किया गिरफ्तार 

एक अन्य ट््वीट में मेनन ने कहा कि उन्होंने मुंबई पुलिस को एक शिकायत देकर आग्रह किया है कि रनौत के खिलाफ उनकी ‘राजद्रोही और भड़काऊ’ टिप्पणी के लिए भारतीय दंड संहिता की धारा 124ए, 504, और 505 के तहत कार्रवाई की जाए। इससे पहले दिन में, भाजपा के लोकसभा सदस्य वरुण गांधी ने भी रनौत की टिप्पणी के लिए उन्हें आड़े हाथों लिया और कहा कि यह एक राष्ट्र विरोधी कृत्य है और इसकी निंदा की जानी चाहिए। 

नवाब मलिक के दामाद ने फडणवीस को 5 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस भेजा

वरूण गांधी ने अभिनेत्री का एक वीडियो क्लिप भी साझा किया जिसमें एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम के दौरान रनौत को यह कहते सुना जा सकता है,‘’वह आजादी नहीं, बल्कि भीख थी और जो आजादी मिली है वह 2014 में मिली।‘‘    हाल में पद्म श्री सम्मान पाने वाली रनौत का इशारा 2014 में भाजपा के सत्ता में आने की तरफ था। अभिनेत्री पूर्व में भी अपने दक्षिणपंथी बयानों को लेकर विवादों में रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.