Thursday, May 06, 2021
-->
up panchayat election notification released voting will be held in 4 stages prshnt

UP पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी, 4 चरणों में होंगे मतदान, जानें नामांकन का तारीख

  • Updated on 3/26/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के चलते हर ओर चुनावी माहौल बना है, वहीं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Three tier panchayat elections) की भी घोषणा कर दी गई है। पंचायती राज विभाग द्वारा सीटवार आरक्षण का काम पूरा कर लिया गया है और साथ में ही इसकी लिस्ट भी जारी कर दी गई है। जिसे विभाग की वेबसाइट पर देखा जा सकता है। पंचायत चुनाव के तहत पहले चरण का नामांकन 3 और 4 अप्रैल को होगा, वहीं दूसरे चरण का नामांकन 7 और 8 अप्रैल , तीसरे चरण का 13 और 25 अप्रैल और चौथे चरण का नामांकन 17 और 18 अप्रैल को होना है। वहीं चुनाव चार चरण में होंगे। 15 को पहले , 19 अप्रैल को दूसरे, 26 अप्रैल को तीसरे और 29 अप्रैल को चौथे चरण का चुनाव होगा। और मतगणना 2 मई होगी।

मुंबई में अस्पताल में लगी आग, कोविड के 10 मरीजों की मौत, 70 को बचाया गया

कोरोना का कहर
बता दें कि दूसरी ओर देश में एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण सरकार के लिए बड़ी मुसीबत बनता जा रहा है, कई राज्य इसके रोकथाम के लिए अपने-अपने सेतर पर तैयारियों में जूट गए हैं। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ इसे लेकर अलर्ट हो गए हैं। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए उन्होंने सोमवार की शाम को एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई, इस बैठक में होली, पंचायत चुनाव और दूसरे राज्यों में कोरोना संक्रमण के बढ़ने की स्थिति के मद्देनजर विशेष सतर्कता और सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं संक्रमण से ब इसके अलावा उन्होंने 24 से 31 मार्च तक कक्षा 8 तक स्कूलों को बंद रखने के भी निर्देश दिए।

किसानों का भारत बंद शुरू, अमृतसर में प्रदर्शनकारियों ने ब्लॉक किया रेलवे ट्रैक

सीएम आदित्यनाथ ने बैठक में दिए ये निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में कहा कि कक्षा-1 से 8 तक के सभी परिषदीय और निजी विद्यालयों को 24 से 31 मार्च, 2021 तक होली अवकाश रहेगा। इनके अलावा, शेष शिक्षण संस्थानों में जहां पर परीक्षाएं आयोजित नहीं हो रही हैं, यह अवकाश दिनांक 25 से 31 मार्च, 2021 तक होगा। वहीं जिन शिक्षण संस्थानों में परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं, उन्हें पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कोविड प्रोटोकॉल का पालना होगा।

साथ ही गांवों में ग्राम पंचायत स्तर और शहरों में वॉर्ड स्तर पर नोडल अधिकारी की तैनाती के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा हर जिले में एक-एक डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है। नियम के अनुसार बिना स्थानीय प्रशासन की पूर्वानुमति के कोई भी जुलूस या सार्वजनिक समारोह आयोजित नही किए जाएंगे। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.