Friday, Oct 07, 2022
-->
Upendra Kushwahas party merged with JDU Nitish Kumar welcomed ALBSNT

उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी का विलय हुआ जदयू में, नीतीश कुमार ने किया स्वागत

  • Updated on 3/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार में विधानसभा चुनाव के बाद से ही नित्य दिलचस्प राजनीतिक गतिविधि देखने को मिल रही है। इसी कड़ी में अब रालोसपा के जदयू में आज विलय की घोषणा हो गई है। इस बाबत राज्य के सीएम नीतीश कुमार से रालोसपा के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने मुलाकात की। जिसके बाद सारे अटकलों को विराम लग गया है। इस अवसर पर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उनके और नीतीश कुमार के बीच किसी भी तरह के मतभेद नहीं रहे है। 

बीजेपी ने जारी की लिस्टः बाबुल सुप्रियो को टॉलीगंज से उतारा, श्रीधरन के नाम पर भी लगी मोहर

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि वे हमेशा से नीतीश कुमार को बड़े भाई की तरह मानते रहे है। उन्होंने कहा कि रालोसपा का विलय जदयू के साथ होने के साथ ही अब नीतीश कुमार के हाथ को मजबूत करने का काम करेंगे। वहीं उपेंद्र कुशवाहा को  जदयू संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। दूसरी तरफ इस मौके पर मौजूद सीएम नीतीश कुमार ने उपेंद्र कुशवाहा का स्वागत करते हुए कहा कि उनके आने से पार्टी को गति और मजबूती दोनों मिलेगी। बाद में दोनों नेताओं ने साथ में लंच भी किया।

West Bengal: विपक्ष को चोट देने व्हीलचेयर से गांधी मूर्ति पहुंची ममता बनर्जी, शुरु हुई पदयात्रा

मालूम हो कि उपेंद्र कुशवाहा के जदयू में जाने की अटकलें को तब बल मिला जब कुछ दिन पहले उन्होंने सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की थी। माना जा रहा था कि मंत्रीमंडल विस्तार से पहले ही उपेंद्र कुशवाहा जदयू धाम सकते है। लेकिन सूत्रों के मुताबिक नीतीश और कुशवाहा में किसी बात पर सहमति नहीं बनने से यह देरी हो रही थी। लेकिन अब साफ हो गया है कि नीतीश कुमार लगातार विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी को नए सिरे से मजबूत करने में जुट गए है। 

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.