Thursday, Jan 20, 2022
-->
uphaar fire sushil and gopal ansal sentenced to imprisonment for tampering evidence rkdsnt

उपहार अग्निकांड: सबूतों से छेड़छाड़ मामले में सुशील और गोपाल अंसल को कैद की सजा

  • Updated on 11/8/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली की एक अदालत ने 1997 में उपहार सिनेमा हॉल में आग लगने के मामले में सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने को लेकर रियल एस्टेट व्यवसायी सुशील और गोपाल अंसल को सोमवार को सात साल जेल की सजा सुनाई। इस अग्निकांड में 59 लोगों की मौत हो गई थी।  

वानखेड़े के पिता की ओर से दायर मानहानि केस में नवाब मलिक से कोर्ट ने मांगा जवाब

मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा ने अंसल बंधुओं में से प्रत्येक पर 2.25 करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया।      अदालत ने अदालत के पूर्व कर्मचारी दिनेश चंद शर्मा और दो अन्य लोगों पी पी बत्रा और अनूप सिंह को भी सात-सात साल की जेल की सजा सुनाई और प्रत्येक पर तीन-तीन लाख रुपये का जुर्माना लगाया।  

भाजपा के हमलों के बीच पंजाब की कांग्रेस सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतें घटाईं

न्यायाधीश ने कहा, ‘‘रात दर रात सोचने के बाद, मैं इस निष्कर्ष पर पहुंचा हूं कि वे सजा के पात्र हैं।’’ आदेश सुनाए जाने के बाद जमानत पर छूटे दोषियों को हिरासत में ले लिया गया। मामला अग्निकांड के मुख्य मामले में सबूतों के साथ छेड़छाड़ से संबंधित है, जिसमें अंसल बंधुओं को दोषी ठहराया गया था और उच्चतम न्यायालय द्वारा दो साल की जेल की सजा सुनाई गई थी।  

 एडिटर्स गिल्ड, विपक्षी पार्टियों ने की त्रिपुरा में वकीलों और अन्य के खिलाफ कार्रवाई की निंदा

 

शीर्ष अदालत ने हालांकि उन्हें जेल में बिताये समय को ध्यान में रखते हुए इस शर्त पर रिहा कर दिया था कि वे राष्ट्रीय राजधानी में एक ट्रॉमा सेंटर के निर्माण के लिए 30-30 करोड़ रुपये देंगे।  गौरतलब है कि 13 जून, 1997 को ङ्क्षहदी फिल्म‘बॉर्डर’की स्क्रीङ्क्षनग के दौरान उपहार सिनेमा में आग लग गई थी, जिसमें 59 लोगों की जान चली गई थी।

इस बार चुनाव में पिछड़ों का ‘इंकलाब’ होगा और 2022 में बदलाव होकर रहेगा : अखिलेश यादव

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.