Sunday, Jan 19, 2020
upsccandidate-mother-toungue-ias-irs-jobs

हिन्दी, क्षेत्रीय भाषाओं के 485 candidate ने 2018 में सिविल सेवा परीक्षा की पास

  • Updated on 12/5/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल।  सरकार ने बृहस्पतिवार (thursday) को बताया कि मातृभाषा (Mother toungue) के तौर पर हिन्दी या अन्य क्षेत्रीय भाषा चुनने वाले 485 अभ्यर्थी का 2018 में सिविल सेवा में चयन हुआ। कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन राज्य मंत्री डॉ जितेन्द्र सिंह ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।
12वीं पास के लिए नौसेना में निकली वैकेंसी, ऐसे करें आवेदन

उन्होंने बताया कि भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) तथा भारतीय पुलिस सेवा (IPS) में अधिकारियों का चयन करने के लिए हर साल सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन किया जाता है। सिंह ने बताया कि 2017 की परीक्षा के दौरान विभिन्न सेवाओं के लिए 1,056 अभ्यर्थी की सिफारिश की गई। इनमें से 633 अभ्यर्थियों ने मातृभाषा के तौर पर हिन्दी (hindi) या अन्य क्षेत्रीय भाषा (Regional Language) का चयन किया था।  
ISRO में 10वीं पास के लिए निकली भर्तियां, ऐसे करें आवेदन

महिला के लिए दी है छूट
उन्होंने बताया कि 2016 की परीक्षा के दौरान विभिन्न सेवाओं के लिए चुने गए 1,204 अभ्यर्थियों (Candidate) में से 664 ने मातृ भाषा के तौर पर हिन्दी या अन्य क्षेत्रीय भाषा का चयन किया था। डॉ सिंह ने लिखित उत्तर में यह भी बताया कि सरकार ऐसे कार्यबल के लिए प्रयत्नशील है जिसमें पुरुष (Man) तथा महिला (Woman) उम्मीदवारों की संख्या में संतुलन हो। उन्होंने कहा कि महिला उम्मीदवारों को सिविल सेवाओं में शामिल होने की प्रतिभागिता के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। महिला उम्मीदवारों को सिविल सेवा परीक्षा के लिए शुल्क का भुगतान करने की जरूरत नहीं है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.