Monday, Aug 02, 2021
-->
us election 2020: voters left for home for presidential election on trump credentials rkdsnt

US Election 2020 : राष्ट्रपति चुनाव के लिए घरों से निकले वोटर्स, ट्रंप की साख दाव पर

  • Updated on 11/3/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अमेरिका में पिछले कुछ दशकों में सबसे ज्यादा आरोप-प्रत्यारोप वाले राष्ट्रपति चुनावों में से एक के लिए आज बड़ी संख्या में वोटर वोटिंग करने के लिए निकल रहे हैं। कई वोटर सेंटरों पर वोटरों की कतारें देखी जा रही हैं। अमेरिका की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने वोट डाल दिया है। इस चुनाव में राष्ट्रपति और रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप के सामने डेमोक्रेट जो बाइडेन हैं।

कोविड-19 महामारी के प्रकोप के दौरान करीब 10 करोड़ अमेरिकी पहले ही पूर्व-मतदान में अपना वोट डाल चुके हैं और माना जा रहा है कि देश के एक सदी के इतिहास में इस बार सर्वाधिक वोटिंग हो सकती है। इस चुनाव में ट्रंप की साख दाव पर लगी है। बाइडेन उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं। 

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव के दिन सड़कों पर हिंसा बढऩे की आशंका के मद्देनजर व्हाइट हाउस एवं बड़े वाणिज्यिक स्थलों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। अहम सरकारी प्रतिष्ठानों में उच्च सतर्कता बरती जा रही है। ‘सीक्रेट सर्विस’ ने व्हाइट हाउस की किलाबंदी कर दी है। मंगलवार को मतदान से पहले व्हाइट हाउस परिसर के चारों ओर बड़ी अस्थाई दीवारें खड़ी की गई हैं। 

सुप्रीम कोर्ट का ‘फ्रैंचाइजी रैकेट’ की जांच के लिए याचिका पर मोदी सरकार को नोटिस 

चुनाव की पूर्व संध्या पर ठेकेदारों को उत्तर में न्यूयॉर्क और बोस्टन से लेकर दक्षिण में ह्यूस्टन और पूर्व में वाशिंगटन डीसी एवं शिकागो से लेकर पश्चिम में सान फ्रांसिस्को तक इमारतों की खिड़कियों पर लकड़ी के कवर लगाते देखा जा रहा है। अमेरिका में 2020 आम चुनाव को हालिया अमेरिकी इतिहास में सबसे विभाजनकारी चुनाव बताया जा रहा है। 

BJP को रोकने के लिए 2019 में जरूरी था BJP से गठबंधन : अखिलेश

‘ब्लैक लाइव्ज मैटर’ विरोध प्रदर्शन में शामिल समूहों समेत रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी बाइडेन के समर्थकों ने मंगलवार रात को वाशिंगटन डीसी में एकत्र होने की घोषणा की है। अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद इस साल की शुरुआत में नस्ली भेदभाव के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शनों में वाशिंगटन डीसी में कई दुकानें एवं कारोबार क्षतिग्रस्त कर दिए गए थे। इसीके मद्देनजर चुनाव से पहले वाशिंगटन डीसी में सुरक्षा कड़ी की गई है। 

भाजपा अध्यक्ष गुप्ता के घर पर MCD टीचरों का धरना, AAP ने बनाया मुद्दा 

‘द वाशिंगटन पोस्ट’ ने कहा, ‘‘चुनाव के बाद ङ्क्षहसा के डर से खुदरा कारोबारियों ने खिड़कियों पर लकड़ी के कवर लगा दिए हैं और सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के प्रबंध किए हैं।’’ कैलिफोर्निया के बेवेर्ली हिल्स के पुलिस प्रमुख ने चुनाव के मद्देनजर ङ्क्षहसा की चेतावनी दी है।

उन्होंने ‘सीबीएस न्यूज’ को सोमवार को बताया कि अधिकारी बिना कोई छुट्टी लिए दिन के 12 घंटे काम कर रहे हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार शाम ट्वीट किया था कि पेंसिल्वेनिया में मतगणना को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला ङ्क्षहसा भड़का देगा। सुप्रीम कोर्ट में पेंसिल्वेनिया में चुनाव के तीन दिन बाद तक मत पत्रों की अनुमति दे दी है।     

मोदी सरकार की हरी झंडी के बाद केजरीवाल का ऐलान- औद्योगिक क्षेत्रों में मैन्युफैक्चरिंग बंद

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.