Thursday, Jun 24, 2021
-->
us-election-2020-who-is-joe-biden-and-what-his-political-journey-prsgnt

US Election: राष्ट्रपति चुनाव में जीत की तरफ बढ़ते जो बाइडन का क्या है भारतीय कनेक्शन?

  • Updated on 11/6/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव (US election) में तेजी से जीत की तरफ बढ़ते डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन अपने प्रतिद्वंदी डोनाल्ड ट्रंप से काफी आगे चल रहे हैं। हालांकि अभी जीत के अंतिम नतीजे सामने नहीं आए है लेकिन 270 का आंकड़ा बाइडन छू चुके हैं जो अभी तक किसी भी उम्मीदवार ने अब तक नहीं छुआ था। 

इतना ही नहीं इस बार के चुनावी सर्वे में जो बाइडन आगे रहे हैं। जो बाइडन ने 1972 में अपना राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने अमेरिका के 47वें उप राष्ट्रपति का पद संभाला था। उनसे जुड़ी कुछ खास बातें हम आपको आगे बताने जा रहे हैं।

अमेरिकी चुनाव में जो बाइडेन की जीत में छिपी है चीन की हार, ऐसे बढ़ेगी ड्रैगन की टेंशन

पहली बाद चुने गए सीनेटर
डेमोक्रेटिक पार्टी से मैदान में उतरे जो बाइडन वर्ष 1972 में पहली बार डेवावेयर से सीनेट के लिए चुने गए थे। जिसके बाद से अब तक बाइडन छह बार सीनेटर रह चुके हैं। उन्होंने बराक ओबामा के राष्ट्रपति रहते हुए अमेरिका के 47वें उप राष्ट्रपति का पद संभाला था। इस चुनाव में बाइडन ने ओबामा को रिकॉर्ड मतों से पीछे छोड़ दिया था। अमेरिका के इतिहास में जो बाइडन पांचवें सबसे युवा सीनेटर थे। अब अगर वो अमेरिका के राष्ट्रपति बनते है तो, वो अमेरिकी इतिहास में सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति होंगे। जो बाइडन 78 साल के है।

जीत की तरफ बढ़ते जो बाइडन के US राष्ट्रपति बनने से पाकिस्तान को होगा बड़ा फायदा, एक नजर....

दुर्घटना में परिवार की मौत
जो बाइडन का निजी जीवन काफी कष्टमय रहा है। बाइडन का की पत्नी और बेटी की वर्ष 1972 में एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी। इसके बाद ही उनके बेटे का ब्रेन कैंसर से निधन हो गया था। इन घटनाओं से बाइडन को उबरने में काफी समय लगा। लेकिन इन हादसों की वजह से उनकी सोच पर काफी गहरा असर पड़ा। बाइडन के करीबी मानते हैं कि निजी जीवन में तकलीफे होने के बाद ही बाइडन ने स्वास्थ्य योजनाओं के होने पर काफी जोर दिया। उन्होंने इसे चुनावी एजेंडा बनाया।  

गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं रुसी राष्ट्रपति पुतिन, गर्लफ्रेंड के कहने पर दे सकते हैं ‘इस्तीफा'

बाइडन पूरा नाम 
बहुत कम लोग जानते हैं कि अमेरिकी सियासत में जो बाइडन के नाम से फेमस बाइडन का पूरा नाम जोसेफ रॉबिनेट बाइडन जूनियर है। बाइडन का जन्म अमेरिका के पेंसिलवेनिया राज्य के स्कैंटन में हुआ था। बाइडन अपने स्कूल ऐज में ही डेलवेयर चले गए थे।

अमेरिकी चुनाव में जो बाइडेन की जीत में छिपी है चीन की हार, ऐसे बढ़ेगी ड्रैगन की टेंशन

भारतीय कनेक्शन 
जानकार बताते हैं कि बाइडन वर्ष 2013 में बतौर उपराष्ट्रपति भारत आए थे। मुंबई में एक भाषण के दौरान उन्होंने अपने भारतीय कनेक्शन के बारे में बताया था। उन्होंने कहा था, जब पहली वो वर्ष 1972 में सीनेट के सदस्य बने थे, तब उन्हें किसी दूसरे बाइडन का मुंबई से एक पत्र मिला था। इस पत्र में दूसरे बाइडन ने उन्हें बताया था कि उनके पूर्वज एक ही हैं। उनके पूर्वज 18वीं सदी में ईस्ट इंडिया कंपनी में काम करते थे। हालांकि इस बारे में बाइडन ज्यादा जानकारी नहीं जुटा पाए इसलिए उन्होंने अफ़सोस भी जताया था। 

इस बारे में उन्होंने वर्ष 2015 में वाशिंगटन में इंडो-यूएस फोरम की बैठक में जिक्र किया था। उन्होंने बताया कि संभवत: उनके पूर्वज ने एक भारतीय महिला से शादी की थी। उनका परिवार अभी भी भारत में है। बाइडन ने यह भी बताया कि उस समय तक बाइडन सरनेम के पांच लोग थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.