Wednesday, Dec 08, 2021
-->
us election campaign republican party campaign democratic party sohsnt

अमेरिका में तेज होते चुनाव प्रचार के बीच BJP ने अपने सदस्यों को पार्टी का नाम न लेनें की दी नसीहत

  • Updated on 9/10/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अमेरिका में जल्द ही राष्ट्रपति चुनाव होने जा रहे हैं। ऐसे में यहां चुनावी प्रचार तेज हो गया है। भारतीय वोटरों को अपने पाले में करने के लिए रिपब्लिकन पार्टी (Republican Party) के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप (Donald trum) चुनाव अभियान में ‘हाउडी मोदी’ और ‘नमस्ते ट्रंप’ का प्रयोग कर सकते हैं। 

ऐसे में बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं को रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रचार के लिए आधिकारिक तौर पर पार्टी के नाम का प्रयोग न करने की अपील की है। बीजेपी ने अमेरिका में बसे अपने सदस्यों से कहा है कि वे स्वतंत्र रूप से ही प्रचार करें।

At Ric meet in Moscow: जयशंकर और वांग यी आज करेंगे लंच बैठक, LAC से जुड़े मुद्दों पर होगी चर्चा

आधिकारिक तौर पर पार्टी का नाम न लेने की अपील
भाजपा के विदेश मामलों के विभाग के प्रभारी विजय चौथाईवाले ने ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी (ओएफबीजेपी) के यूएस चैप्टर को लिखा है कि कोई भी कार्यकर्ता चुनाव प्रचार में पार्टी के नाम या मंच का आधिकारिक तौर पर इस्तेमाल न करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक का यह अधिकार है कि वे अपने-अपने देशों में चुनाव प्रक्रिया में भाग लें।ओएफबीजेपी का प्रत्येक सदस्य अपनी व्यक्तिगत क्षमता में रहकर सक्रिय रूप से चुनाव प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं। इसके साथ ही ये साफ कर दिया गया है कि अमेरिकी चुनावों में भाजपा की कोई भूमिका नहीं है।

सीमा तनाव के बीच चीन की भारत को धमकी, बोला- LAC पर की गलती तो होगा 1962 जैसा अंजाम

कमला हैरिस को लेकर कही ये बात
इसके अलावा 'कमला हैरिस' के बारे में बात करते हुए भारतीय और जमैका मूल के अमेरिकी सीनेटर ने कहा कि 'स्वाभाविक रूप से हम खुश हैं कि भारतीय वंश का एक व्यक्ति अमेरिका में दूसरे सबसे प्रमुख पद के लिए चुनाव लड़ रहा है, लेकिन बीजेपी  यहां गैर-पक्षपाती भूमिका लेना चाहती है। उन्होंने कहा, इसका फैसला हमने हमारे सदस्यों की पसंद पर छोड़ दिया  है, क्योंकि यह वहां के लोगों का संप्रभु अधिकार है।

अफगानिस्तान के उप राष्ट्रपति सालेह पर जानलेवा आतंकवादी हमला, दो नागरिकों की मौत

अमेरिकी चुनाव में भाजपा की कोई भूमिका नहीं
उन्होंने कहा, 'हम अच्छी तरह से समझते हैं कि कोई भी चुनाव पूरी तरह से उस देश की एक घरेलू प्रक्रिया है और इस प्रक्रिया में भाजपा की कोई भूमिका नहीं है। भारत और अमरीका के गहरे रणनीतिक संबंध हैं जिनका अमेरिका में द्विदलीय समर्थन है और भारत में जनता का भारी समर्थन है।'

भारत-चीन तनाव पर बोला रूस, कहा- उम्मीद है बातचीत के जरिए हल होगा विवाद

मालूम हो कि ओएफबीजेपी (OFBJP) की रिपब्लिकन पार्टी के लिए प्रचार की शुरुआत बीते साल के पीएम मोदी और ट्रंप के टेक्सास स्टेडियम में हाथों में हाथ डाले हुए वीडियो के साथ हुई, इसके साथ ही ‘फोर मोर इयर्स वाला’ रिपब्लिकन अभियान का वीडियो का भी प्रयोग चुनाव में किया जा रहा है। दरअसल, ये वीडियो भारतीय-अमेरिकियों के बीच काफी पसंद किए जा रहे हैं, जिसका इस चुनाव प्रचार में जम कर प्रयोग किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.