Monday, Apr 12, 2021
-->
usa-start-plasma-therapy-on-serious-corona-patient-kmbsnt

कोरोना से जंग के दिल्ली मॉडल को अमेरिका ने अपनाया, CM केजरीवाल ने जताई खुशी

  • Updated on 8/25/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली (Delhi) मॉडल में कोरोना मरीजों की जान बचाने के लिए प्लाज्मा थेरेपी (Plasma Therapy) एक प्रमुख हथियार है। अब कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझ रहे अमेरिका ने इस मॉडल को अपना लिया है। अमेरिका (America) ने कोविड-19 के रोगियों के इलाज के प्लाज्मा थेरेपी के मॉडल को अपनाया है। यह घोषणा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा की गई।

इसके बाद दिल्ली वासियों को बधाई देते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि वह कहते थे अमेरिका जो आज करता है भारत कल करेगा। दिल्ली ने इसे बदल दिया है। अब कल दिल्ली ने क्या किया, अमेरिका आज कर रहा है। इसके लिए दिल्ली को बधाई देता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हमारे देश के लिए बेहद सम्मान की बात है।

दिल्ली में थमी कोरोना की रफ्तार, अब तक 1.46 लाख लोगों ने दी मात

दिल्ली में सबसे पहले हुई प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत
केजरीवाल की पहल पर देश में सबसे पहले अप्रैल में दिल्ली में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत हुई। इसके लिए दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार से अनुमति ली थी, जिसके नतीजे काफी बेहतर है। फिर दिल्ली में दुनिया का पहला प्लाज्मा बैंक 2 जुलाई को आईएलबीएस अस्पताल में शुरू किया गया था, जिसका उद्देश्य को गंभीर मरीजों को निशुल्क उच्च गुणवत्ता का प्लाज्मा प्रदान करना था। इसके बाद दिल्ली के अस्पताल में एक और प्लाज्मा बैंक एलएनजेपी अस्पताल में शुरू किया गया। 

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में अब लंबी कतारों से मुक्ति दिलाएगी केजरीवाल सरकार

710 यूनिट प्लाज्मा निशुल्क दे चुके बैंक
दिल्ली मॉडल का यह सिस्टम (प्लाज्म थेरेपी) कोरोना से लड़ाई में एक महत्वपूर्ण तत्व रहा है और अब देश के अन्य राज्यों द्वारा भी अपनाया जा रहा है। अब अमेरिका ने भी अपना लिया है। दिल्ली सरकार के आईएलबीएस और एलएनजेपी अस्पताल में स्थापित प्लाज्मा बैंक से दिल्ली सरकार केंद्र सरकार व एमसीडी के अस्पतालों के अलावा सभी निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे कोरोना की गंभीर मरीजों को निशुल्क प्लाज्मा उपलब्ध कराया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक आईएलबीएस और एलजेपी के प्लाज्मा बैंक से 710 यूनिट प्लाज्मा दिल्ली के विभिन्न सरकारी व निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे कोरोना के गंभीर मरीजों को निशुल्क दिया जा चुका है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.