Wednesday, Oct 05, 2022
-->
Uttar Pradesh assembly elections Voting fourth phase many veterans at stake rkdsnt

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान, कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा लगी है दांव पर

  • Updated on 2/22/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के तहत नौ जिलों की 59 सीटों पर बुधवार को मतदान होगा। चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार का दौर सोमवार की शाम समाप्त हो गया। विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में आगामी 23 फरवरी को पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, बांदा और फतेहपुर जिलों की कुल 59 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा। इस चरण में कुल 624 उम्मीदवार मैदान में हैं।

बलात्कारी डेरा प्रमुख राम रहीम को जेड प्लस सुरक्षा, विपक्ष बोला- यही है मोदी जी का “न्यू इंडिया”

वर्ष 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में इन 59 में से 51 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी। इसके अलावा सपा को चार, बसपा को तीन और भाजपा के सहयोगी अपना दल-सोनेलाल को एक सीट मिली थी।  चौथे चरण का चुनाव प्रचार काफी ‘हाई वोल्टेज’ वाला रहा और सभी राजनीतिक दलों ने प्रचार कार्य में अपनी पूरी ताकत झोंक दी।  

भाजपा सांसद वरुण गांधी बोले- बैंक, रेलवे के निजीकरण से 5 लाख कर्मचारी हो जाएंगे बेरोजगार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा के निशाने पर ज्यादातर सपा ही रही। भाजपा ने अहमदाबाद बम धमाके के मामले में पिछले शुक्रवार को अभियुक्तों को सुनाई गई सजा को लेकर सपा पर तीखे वार किए और उसे आतंकवादियों से हमदर्दी रखने वाली पार्टी करार दिया।   

उप्र चुनाव : टिकैत समेत किसान नेता करेंगे प्रयागराज, गोरखपुर, वाराणसी का दौरा

  उधर, अखिलेश यादव की अगुवाई में सपा गठबंधन ने भाजपा की कथित नाकामियों गिनाते हुए मतदाताओं से वोट मांगे। अखिलेश ने अपनी ज्यादातर रैलियों में चुनाव के पहले तीन चरणों मे सपा गठबंधन को जोरदार समर्थन प्राप्त होने का दावा करते हुए कहा कि इस बार चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक पराजय होगी। बसपा अध्यक्ष मायावती ने भी कई रैलियां करके जनता से सपा, भाजपा और कांग्रेस को सत्ता से दूर रखने की अपील की और कहा कि प्रदेश की जनता को असली सुशासन सिर्फ बसपा दे सकती है।

NSE में चित्रा रामकृष्ण- अज्ञात योगी प्रकरण पर सीतारमण ने रुख किया साफ 

कांग्रेस महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा ने जगह-जगह रोड शो और सभाएं कर पार्टी प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे और मतदाताओं से अपील की कि वे धर्म और जाति के आधार पर नहीं बल्कि बुनियादी मुद्दों पर ही वोट दें। तिकोनिया गांव में पिछले साल तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के मामले को लेकर सुर्खियों में आए लखीमपुर खीरी में भी चौथे चरण में ही मतदान होगा।     

सफाईकर्मियों की नौकरी नियमित करने की BJP के ऐलान को AAP ने बताया चुनावी हथकंडा

चौथे चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों की प्रतिष्ठा दांव पर है उनमें प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक (लखनऊ कैंट), मंत्री आशुतोष टंडन (लखनऊ पूर्वी) पूर्व मंत्री सपा प्रत्याशी अभिषेक मिश्रा (सरोजिनी नगर), उत्तर प्रदेश विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल (हरदोई) शामिल हैं।      इसके अलावा नेहरू-गांधी परिवार का ‘गढ़’ माने जाने वाले रायबरेली में भी चौथे चरण में मतदान होगा। यहां कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई आदिती सिंह एक बार फिर मैदान में हैं।      मतदान सुबह सात बजे शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा।      

comments

.
.
.
.
.