Thursday, Feb 25, 2021
-->
uttar pradesh ghaziabad 3rd phase of coronavirus community spread pragnt

Corona virus: जमातियों की वजह से तीसरे स्टेज के नजदीक गाजियाबाद, UP के ये जिले हुए सील

  • Updated on 4/9/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना संक्रमित (Corona Positive) मामलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। जिसके चलते भारत के कुछ इलाकों में कम्युनिटी स्प्रेड (Community Spread) का खतरा मंडरा रहा है। इनमें से एक उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) का गाजियाबाद (Ghaziabad) जिला भी शामिल है। यहां कोरोना के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं जिसकी वजह से गाजियाबाद अब थर्ड स्टेज के नजदीक पहुंच गया है। गाजियाबाद में जितने भी कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं उनमें आधे से ज्यादा तबलीगी जमात से जुड़े हैं, बाकी विदेश से लौटे लोग हैं।

इसी के मद्देनजर यूपी की योगी सरकार ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए बुधवार की रात 12 बजे से गाजियाबाद जनपद में सभी हॉट स्पॉट को पूरी तरह से सील करने का ऐलान किया है। यह हॉट स्पॉट 13 अप्रैल की रात 12 बजे तक सील रहेंगे।

गाजियाबाद सील होने की खबर से दुकानों की ओर दौड़े लोग, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां

इन 15 जिलों को किया गया सील
कोरोना के मद्देनजर योगी सरकार ने बुधवार को प्रदेश के 15 जनपदों को सील करने की घोषणा की। इनमें लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, महाराजगंज, सीतापुर, साहरनपुर और बस्ती शामिल है। इसके साथ ही यूपी प्रशासन ने नागरिकों से धैर्य बनाए रखने की अपील की। उप्र सरकार ने कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने को सख्त कदम उठाया है। 

यूपी: जमात में हिस्सा लिये 3 युवकों ने क्वारंटीन सेंटर भेजे जाने का किया आग्रह, अस्पताल में भर्ती  

डीएम ने की अपील
गाजियाबाद में लोगों में खास तौर पर अफरातफरी देखी गई है। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया और लोगों से दहशत में खरीदारी नहीं करने की अपील की गई। गाजियाबाद के डीएम ने अपनी अपील में कहा,  'पूरे जनपद में कर्फ्यू लगने की जो बात की जा रही है यह अफवाह है। इसमें कोई सत्यता नहीं है। आप लोग अफवाह ना फैलाएं। जिन मोहल्लों में करोना  मरीज मिले हैं केवल उन मोहल्लों में कुछ रिस्ट्रिक्शंस और लगाए जाएंगे। पूरे जनपद में कहीं कोई कर्फ्यू नहीं लगने जा रहा है। सब लोग आश्वस्त रहे। अपने घरों में रहें और सुरक्षित रहें।'

जमातियों की बेशर्मी देख ऐक्शन में योगी सरकार, महिला कर्मचारियों को दिया ये निर्देश

आधे से ज्यादा तबलीगी जमात के मामले
मालूम हो कि देश भर के कुल 6000 पार संक्रमित मरीजों में से एक-तिहाई लोग तबलीगी जमात में हिस्सा ले कर वापस लौटे है। आलम यह है कि यूपी के कोरोना संक्रमित मरीजों में हर दूसरा व्यक्ति जमात से जुड़ा हुआ है। वहीं गाजियाबाद में जितने भी कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं वह आधे से ज्यादा तबलीगी जमात से जुड़े हैं, वहीं अन्य विदेश से लौटे लोग हैं।

कोरोना संक्रमण तीसरे स्टेज की ओर! AIIMS डायरेक्टर ने कम्यूनिटी प्रसार को लेकर चेताया

देश भर से लोगों ने लिया था मरकज में हिस्सा
बता दें कि दिल्ली (Delhi) स्थित निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) में शामिल होकर लौटने वाले अधिकांश लोगों में कोरोना संक्रमित केस प्राप्त हुए है। जिससे देश में अचानक से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। जिसके बाद यूपी सरकार ने सख्ती बरतते हुए सभी जमातियों को हिदायत दीं कि वे जहां कहीं भी छिपे हुए है,जल्द राज्य के व्यापक हित में बाहर निकलकर सहयोग करें। नहीं तो उन पर सख्त कार्रवाई होगी। जिसका नतीजा रहा कि अब लोग खुद स्थानीय प्रशासन के पास पहुंचकर सहयोग करने के लिये सामने आया है।

सफदरजंग की दो महिला डॉक्टरों को उनके पड़ोसी ने पीटा, कहा- फैलाएगी कोरोना

गाजियाबाद के ये हैं 13 कोरोना हॉटस्पॉट इलाके-

1-नंदग्राम निकट मस्जिद
2-सेवियर सोसाइटी, मोहन नगर
3-पसोंडा
4-वसुंधरा सेक्टर 2-बी
5-ऑक्सीहोम, भोपुरा
6-नाईपुरा लोनी
7-मसूरी
8-कोशांबी स्थित एक सोसाइटी
9-वैशाली सेक्टर छह
10-केडीपी सोसाइटी राजनगर एक्सटेंशन
11-बी-77-जी-5, शालीमार एक्सटेंशन टू
12-खाटू श्याम कॉलोनी दुहाई
13-शिप्रा अपार्टमेंट

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.