Wednesday, May 12, 2021
-->
uttar pradesh yogi adityanath moradabad medical team and police nsa pragnt

मुरादाबाद: डॉक्टरों की टीम पर हुए हमले से नाराज CM योगी, NSA और वसूली के दिए आदेश

  • Updated on 4/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ युद्ध लड़ रहे चिकित्साकर्मियों के ऊपर हो रहे लगातार हमलों के कारण अब उनके अंदर डर का माहौल पैदा हो गया है। ताजा मामला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) का है जहां पर मरीज को अस्पताल ले जा रही एक एंबुलेंस पर पत्थरों से हमला किया गया है। इस हमले में पुलिसकर्मी समेत कई डॉक्टर भी घायल हो गए हैं। इस बीच, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने मुरादाबाद में हुई घटना का संज्ञान लेते हुए कहा कि आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्यवाई की जाएगी।

यूपी: मरीज को अस्पताल ले जा रही एंबुलेंस पर पत्थरबाजी, पुलिसकर्मी व डॉक्टर घायल

NSA लगाने के दिए आदेश
सीएम योगी ने कहा, 'स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर्स व कर्मी सभी सफाई अभियान से जुड़े अधिकारी/कर्मचारी, सुरक्षा में लगे सभी पुलिस अधिकारी व पुलिसकर्मी इस आपदा की घड़ी में दिन-रात सेवा कार्य में जुटे हैं। पुलिस कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं स्वच्छता अभियान से जुड़े कर्मियों पर हमला एक अक्षम्य अपराध है, जिसकी घोर निंदा की जाती है। ऐसे दोषी व्यक्तियों के खिलाफ आपदा नियंत्रण अधिनियम तथा राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) के तहत कार्यवाही की जाएगी।'

कोरोना वायरस के खात्मे के लिए कितना कारगर है BCG का टीका, जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ?

उपद्रवी तत्वों पर पूरी सख्ती बरते
उन्होंने कहा, 'दोषी व्यक्तियों द्वारा की गई राजकीय संपत्ति के नुकसान की भरपाई उनसे सख्ती से की जाएगी। जिला पुलिस प्रशासन ऐसे उपद्रवी तत्वों को तत्काल चिन्हित करे और प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा के साथ उपद्रवी तत्वों पर पूरी सख्ती बरते।'

जल्द हिरासत में होगा मौलाना साद, गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज

क्या है मामला?
मुरादाबाद के नवाबपुरा में कुछ लोगों ने संभवत: कोरोना वायरस से संक्रमित एक व्यक्ति को लेने गई मेडिकल एंबुलेंस पर पर पथराव किया। इस दौरान आरोपियों ने डॉक्टरों को बुरी तरह से पीटा और उन्हें बंधक बना लिया। इस हमले में दो एंबुलेंस पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं 2 स्वास्थ्य कर्मी गंभीर रूप से घायल हैं। बता दें कि कुछ लोगों ने पुलिस पर भी हमला किया और पुलिस की गाड़ी भी तोड़ दी। इस हमले में कई पुलिसकर्मी भी जख्मी हैं। पुलिस ने नागफनी क्षेत्र को सील कर दिया है।

कोरोनाः प्रियंका गांधी ने प्रवासियों की दुर्दशा को लेकर PM से मांगी मदद, कही ये बात

एम्बुलेंस के ड्राइवर और SSP अमित पाठक ने दिया बयान
एम्बुलेंस के ड्राइवर ने बताया, 'जब हमारी टीम मरीज के साथ एम्बुलेंस में सवार हुई, अचानक भीड़ उमड़ी और पथराव शुरू कर दिया। कुछ डॉक्टर अभी भी वहीं हैं। हम घायल हैं।' SSP अमित पाठक ने बताया कि इस घटना में स्वास्थ्य कर्मियों को चोटें आई हैं और उनको प्राथमिक इलाज के लिए भेजा गया है। इसमें सरकारी कार्य में बाधा डाली गई है, धारा 144 का उल्लंघन किया है, महामारी एक्ट, आपदा प्रबंधन एक्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत इसमें कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.