Sunday, Jan 19, 2020
Uttrakhand news  Chamoli news heavy rain

बारिश से चमोली की 17 सड़कें बंद, 60 से अधिक पैदल मार्ग क्षतिग्रस्त

  • Updated on 8/10/2019

गोपेश्वर/ब्यूरो। वीरवार को बारिश से चमोली जिले की 17 ग्रामीण सड़कें बंद पड़ी हैं। वहीं, 60 से अधिक पैदल मार्ग और 22 पेयजल योजनाएं जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। इससे जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में जन-जीवन प्रभावित हुआ है।

वीरवार को बारिश के दौरान देवाल ब्लॉक के फल्दियागांव में फटे बादल से गांव का भूगोल बदल दिया है। साथ ही क्षेत्र के बमणबेरा, हरिपुर, बकरीगाड़, तलौर, पदमल्ला, उलंग्रा गांवों में बारिश से भारी नुकसान हुआ है। दशोली ब्लॉक के रोपा, टेढ़ा, मैठाणा, सैकोट और तिलडोबा में भी ग्रामीणों के आवासीय भवन, कृषि भूमि और पेयजल योजनाएं भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

पैदल मार्ग और सड़कें क्षतिग्रस्त होने से ग्रामीणों की आवाजाही मुश्किल हो गई है। घाट विकास खंड के कुमजुग गांव में पैदल मार्ग क्षतिग्रस्त होने से यहां स्कूली बच्चे जान जोखिम में डालकर आवजाही को मजबूर हैं। साथ ही पेयजल आपूर्ति का संकट बना हुआ है। जल संस्थान वैकल्पिक व्यवस्था से पेयजल आपूर्ति करने के दावे कर रहा है। 

आपदा से प्रभावित गांवों में राहत और बचाव कार्य के लिए अलग-अलग स्तर पर एसडीआरएफ, तहसील और आपदा की टीमें कार्य कर रही हैं। डीएम ने जल संस्थान, लोनिवि, पीएमजीएसवाई और ऊर्जा निगम को प्रभावितों को मूलभूत सुविधाएं शीघ्र मुहैय्या करवाने के निर्देश दिए हैं। जल्द ही गांवों में स्थितियां सामान्य हो जाएगी।
-नंद किशोर जोशी, आपदा प्रबंधन अधिकारी, चमोली।

ये ग्रामीण सम्पर्क मार्ग हैं बंद
पोखरी-गोपेश्वर, कर्णप्रयाग-नौटी, पोखरी-गोपेश्वर, थराली-वाण, पोखरी-विशालखाल, पलसारी-बमियाला, तेफना-कंडारा, घाट-सुतोल, थराली-सूना-पैनगढ, थराली-जूनीधार, हापला-कलसिर, धोतिधार, हापला-गुड़म-नैल, रानौं-क्वींठी, सेमी-पनाई-उतरौं, चमोली-खैनुरी, डुंग्री-रतगांव, नंदकेशरी-ग्वालदम। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.