Thursday, Jun 17, 2021
-->
uttrakhand pigs and dogs scratching the carcasses of corona infected rkdsnt

कोरोना संक्रमितों के अधजले शवों को नोच रहे सुअर और कुत्ते

  • Updated on 5/9/2021

श्रीनगर, 9 मई (स.ह.) : कोरोना संक्रमितों के अधजले शवों को अलकनंदा नदी किनारे स्थित अलकेश्वर घाट पर छोड़ देने का मामला प्रकाश में आया है जिसे कुत्ते और सुअर नोच खा रहे हैं। आलम यह है कि घाट से मानव अंगों को लेकर कुत्ते आवासीय इलाकों तक पहुंचे रहे हैं। इससे लोगों में भय बना हुआ है। स्थानीय प्रशासन ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में आया है। किस स्तर पर यह लापरवाही की जा रही है, इसकी जांच करने के बाद कार्रवाई की जाएगी। शवों के ठीक तरीके से अंतिम संस्कार हों, इसके निर्देश दिए गए हैं।

कोरोना संकट के लिए मनीष सिसोदिया ने मोदी सरकार पर बोला हमला 

प्रशासन ने कोविड मरीजों के अंतिम संस्कार के लिए श्रीनगर के अल्केश्वर और श्रीकोट घाट तय किए हैं। लगातार बढ़ रहे कोराना संक्रमण के साथ मौतों का ग्राफ भी बढ़ रहा है। हर दिन श्रीनगर के अल्केश्वर घाट पर शवों की तादाद बढ़ रही है। ऐसे में लोग जल्दबाजी में शवों को जलाकर चले जाते हैं। स्थानीय निवासी मनोज कुमार ने बताया कि अधजली चिताओं से कुत्ते मानव अंगों को खींचकर शनि मंदिर और स्थानीय लोगों के घरों तक पहुंचा रहे हैं। इसकी शिकायत पुलिस और प्रशासन से भी की गई है।

मोदी सरकार में मंत्री ने योगी सरकार की कोरोना से निपटने की व्यवस्था पर उठाए सवाल

कोरोना मरीजों का श्मसान घाट बदलने की मांग
अलकेश्वर घाट से लगे मोहल्ले के लोगों ने कोरोना के लिए चयनित इस घाट को बदलने की मांग की है। स्थानीय लोगों का कहना है कि जिस तरह से जानवर मानव अंगों को खाकर इधर उधर ले जा रहे हैं, उससे कोरोना वायरस के और अधिक फैलने का खतरा बना हुआ है। यह घाट शहर के मध्य में है। इसे शहर से दूर बनाया जाय।

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज- कहा- देश को PM आवास नहीं, सांस चाहिए!

 

हम लोग कोरोना मरीजों के शवों को जलाने का काम नहीं करते हैं। हम शवों को सील करके उनके परिजनों और प्रशासन को सौंप देते हैं।
-के.पी. सिंह, चिकित्साधिकारी बेस चिकित्सालय श्रीनगर।

कोरोना कहर : ममता ने पीएम मोदी से की ऑक्सीजन, दवाओं पर टैक्स छूट की मांग

 
ऐसी सूचना मिली थी। एस.डी.आर.एफ. और शवदाह करने वालों को निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी शवों को अधजला न छोड़ें। नगर पालिका को घाट पर साफ सफाई व्यवस्था बनाने के लिए भी कहा गया है।

comments

.
.
.
.
.