Saturday, Jun 23, 2018

VHP सदस्यों द्वारा ताजमहल के गेट को तोड़ने की कोशिश, कहा- मंदिर के रास्ते में बन रहा बाधा

  • Updated on 6/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों द्वारा ताजमहल के पश्चिमी गेट को गिराने की कोशिश की है। वीएचपी के सदस्यों का कहना है कि यह गेट 400 साल पुराने हिंदू मंदिर में जाने के रास्ते को ब्लॉक कर रहा है।

विरोध कर रहे सदस्यों ने पहले गेट के पास प्रदर्शन किया, फिर इसे तोड़ने की कोशिश की। भारत के पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने वीएचपी के 30 सदस्यों के खिलाफ दंगे के आरोप में केस कर दिया है। इस दौरान कड़ी सुरक्षा के बाद भी पर्यटकों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। यह पूरी घटना ताजमहल के पश्चिमी गेट से 300 मीटर की दूरी पर हुई।

खबर के मुताबिक, वीएचपी के सदस्य हथौड़े और लोहे की रॉड से इस गेट को तोड़ने की कोशिश कर रहे थे। ये तब हुआ जब एएसआई के लोग गेट के पास टर्नस्टाइल गेट और मेटल डिटेक्टर के लिए फ्रेम तैयार कर रहे थे। हंगामे के बीच टर्नस्टाइल गेट हटा दिया गया और एएसआई के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी गई। 

विरोध कर रहे वीएचपी के लोगों का कहना है कि ताजमहल के पश्चिमी दिवार से सटे सिद्धेश्वर महादेव मंदिर को जाने के लिए ये रास्ता है। लेकिन जो गेट बनाया गया है उससे मंदिर जाने का रास्ता प्रभावित हो रहा है और ये मंदिर इस मंदिर का अस्तित्व ताजमहल से भी पुराना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.