Tuesday, Jul 05, 2022
-->
vinay kumar saxena appointed as the new lieutenant governor of delhi in place of anil baijal

अनिल बैजल की जगह विनय कुमार सक्सेना दिल्ली के नए उपराज्यपाल बने

  • Updated on 5/23/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  विनय कुमार सक्सेना को सोमवार को दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में यह जानकारी दी गई। सक्सेना (64) अनिल बैजल का स्थान लेंगे, जिन्होंने‘‘निजी कारणों‘’का हवाला देते हुए पिछले सप्ताह पद से इस्तीफा दे दिया था। सक्सेना वर्तमान में खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में कहा गया,‘‘भारत के राष्ट्रपति को श्री विनय कुमार सक्सेना को उनके पदभार ग्रहण करने की तिथि से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त करते हुए प्रसन्नता हो रही है।‘‘ 

संघीय ढांचे को ध्वस्त कर रहा है केंद्र, BJP शासन हिटलर, स्टालिन से भी बद्तर : ममता

  •  

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सक्सेना की नियुक्ति का स्वागत किया और उन्हें अपने मंत्रिमंडल के पूर्ण सहयोग का भरोसा दिलाया।      केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा,‘‘दिल्ली के नवनियुक्त उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना जी का दिल्ली की जनता की तरफ से मैं हाॢदक स्वागत करता हूं। दिल्ली की बेहतरी के लिए उन्हें दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल की तरफ से पूर्ण सहयोग मिलेगा।‘‘ उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल रहे अनिल बैजल के साथ मिलकर दिल्ली में कई काम किए और समस्याओं को हल करने की कोशिश की।  मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘वह (बैजल) एक बेहद अच्छे इंसान हैं। भविष्य के लिए मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं और उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबी आयु की कामना करता हूं।‘‘ 

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली अंतरराज्यीय परिषद का पुनर्गठन, शाह स्थायी समिति के अध्यक्ष 

उल्लेखनीय है कि तत्कालीन उपराज्यपाल नजीब जंग के अचानक इस्तीफा देने के बाद 1969 बैच के आईएएस अधिकारी बैजल को दिसंबर 2016 में दिल्ली का 21वां उपराज्यपाल नियुक्त किया गया था। राजस्थान में जेके ग्रुप के साथ बतौर सहायक अधिकारी अपने करियर की शुरुआत करने वाले सक्सेना को वर्ष 1995 में महाप्रबंधक बनाकर गुजरात में एक प्रस्तावित बंदरगाह परियोजना की देखरेख का जिम्मा सौंपा गया था। केवीआईसी में सक्सेना से संबंधित उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, उनका जन्म 23 मार्च, 1958 को हुआ था और वह कानपुर विश्वविद्यालय के छात्र रहे हैं। 

विनय कुमार सक्सेना दिल्ली के नए उपराज्यपाल होंगे। विनय कुमार सक्सेना अभी तक खादी ग्राम उद्योग में कार्यरत थे। हाल ही में अनिल बैजल ने दिल्‍ली के उप राज्‍यपाल पद से इस्‍तीफा दे दिया था। उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजा था। बैजल ने निजी कारणों को अपने इस्तीफे की वजह बताया था। 

 

दिल्ली में एक दशक बाद एकीकृत MCD अस्तित्व में आई, चुनाव की अटकलें शुरू

रिटायर्ड नौकरशाह बैजल ने नजीब जंग के इस्‍तीफे के बाद दिसंबर 2016 में उप राज्‍यपाल का पद संभाला था। दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ मतभेदों को लेकर भी बैजल का नाम कई मौकों पर चर्चा में रहा था। बैजल 1969 बैच के आईएएस अफसर थे,  वे अटल बिहारी बाजपेयी के नेतृत्‍व वाली सरकार में केंद्रीय गृह सचिव के तौर पर भी सर्विस दे चुके हैं।

मथुरा मस्जिद में ‘गर्भ गृह’ के शुद्धिकरण की इजाजत देने के लिए याचिका दाखिल

कुछ अवसरों पर आम आदमी पार्टी सरकार की ओर से लिए गए फैसलों को उप राज्‍यपाल बैजल ने 'वीटो' कर दिया, जिसे लेकर केजरीवाल सरकार की ओर से तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली थी। 'आप' ने कुछ मौकों पर बैजल पर केंद्र सरकार के इशारे पर काम करने का भी आरोप भी लगाया था।   

 

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने आयकर में छूट और दो LTC नहीं लेने का फैसला लिया

  •  

     बैजल और आम आदमी पार्टी नीत सरकार का बड़ा टकराव जून 2018 में हुआ था जब केजरीवाल अपने मंत्रियों मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन और गोपाल राय के साथ उपराज्यपाल कार्यालय में धरने पर बैठ गए। केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि आईएएस अधिकारी दिल्ली सरकार के साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं और घर तक राशन पहुंचाने की योजना को मंजूरी नहीं दे रहे हैं।   

 

84 के दंगा पीड़ितों संबंधी नीति में भर्ती में वरीयता की परिकल्पना है, अनिवार्य रोजगार नहीं: अदालत

  जुलाई 2018 में उच्चतम न्यायालय के इस फैसले के बाद उपराज्यपाल और आप के बीच तल्खी कम हुई कि दिल्ली के उपराज्यपाल दिल्ली सरकार की ‘‘सहायता और सलाह’’ से बंधे हैं। पिछले साल जुलाई में भी आप सरकार और उपराज्यपाल के बीच तनाव पैदा हुआ जब बैजल ने किसान आंदोलन संबंधी मामलों में पैरवी के लिए दिल्ली मंत्रिमंडल द्वारा मंजूर वकीलों की सूची को खारिज कर दिया। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया दी थी।      इस साल मार्च में, केजरीवाल के एक ट््वीट के बाद बैजल के हटने की अटकलें तेज हो गईं। केजरीवाल ने ट््वीट किया था, ‘‘क्या लक्षद्वीप के प्रशासक प्रफुल्ल पटेल को दिल्ली का अगला उपराज्यपाल बनाया जा रहा है?’’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.